जैसे ही लॉक-डाउन की खबर सुनी, सभी महिलाओं के मन में एक ही ख़याल आया उफ़ ! अब घर का काम कैसे होगा .काम वाली भी तो नहीं आ सकती अब .

घर का बर्तन, कपड़ा, झाड़ू, पौंछा आदि सब तो वही करती है .

अक्सर सभी वाटसैप समूहों से ऐसे ही सन्देश फॉरवर्ड होने लगे .

Tags:
COMMENT