सरिता विशेष

क्रिकेट में जब भी वनडे क्रिकेट की बात होती है तो अक्सर सबसे ज्यादा रन, विकेट के आंकड़ों का ही जिक्र होता है. और जब भी बाउंड्री की बात होती है अक्सर छक्कों के रिकॉर्ड की ही बात होती है. लेकिन अमुमन एक मैच में छक्के से ज्यादा चौके लगाए जाते हैं. छक्के की बजाय चौके लगाना कम रिस्की होता है.

अगर वनडे क्रिकेट में सबसे ज्यादा चौके लगाने वाले बल्लेबाजों की बात करें तो यहां भी भारतीय बल्लेबाजों का दबदबा देखने को मिलता है. तो आइए जानते हैं वनडे क्रिकेट में सबसे ज्यादा चौके लगाने वाले बल्लेबाजों के बारे में.

सचिन तेंदुलकर (2016 चौके)

क्रिकेट में भगवान का दर्जा रखने वाले सचिन तेंदुलकर सबसे ज्यादा चौके मारने के लिस्ट में टॉप पोजीशन पर कब्जा जमाए हुए हैं. सबसे ज्यादा चौके जमाने वाले बल्लेबाजो में सचिन तेंदुलकर अपने प्रतिद्वंदी खिलाड़ियों को 500 चौकों के बड़े अंतर से पीछे छोड़ते हैं. सचिन तेंदुलकर दुनिया के एकलौते ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्होंने वनडे क्रिकेट में दो हजार से ज्यादा चौके जमाए हैं.

सचिन तेंदुलकर ने भारत के लिए 463 वनडे मैचों में कुल 2016 चौके जमाए हैं. सचिन तेंदुलकर ने वनडे क्रिकेट में ज्यादातर समय नंबर 1 या 2 की पोजीशन पर बल्लेबाजी की है लेकिन करियर के शुरूआती दिनों में वो मध्यक्रम में बल्लेबाजी करते थे. यदि वो शुरू से ही एक सलामी बल्लेबाज के तौर पर खेलते तो शायद उनके चौकों की संख्या 2,500 के पार होती. वनडे क्रिकेट में सचिन तेंदुलकर ने 49 शतक बनाने का कीर्तिमान बनाया.

सनथ जयसूर्या (1500 चौके)

अपनी विस्फोटक बल्लेबाजी से वनडे क्रिकेट में सलामी बल्लेबाजी की नई परिभाषा बनाने वाले खिलाड़ी हैं सनथ जयसूर्या. उन्होंने 445 वनडे मैचों में कुल 1500 चौके विरोधी गेंदबाजों को लगाए हैं. 2006 में नीदरलैंड के खिलाफ 157 रनों की पारी में सनथ जयसूर्या ने कुल 24 चौके जमाए थे. ये उनके द्वारा एक पारी में लगाए गए सबसे ज्यादा चौके थे.

कुमार संगाकारा (1385 चौके)

श्रीलंकाई विकेटकीपर बल्लेबाज कुमार संगाकारा ने श्रीलंका के लिए 404 वनडे मैच खेले जिनमें उनके बल्ले से 1385 चौके निकले. कुमार संगाकारा ही ऐसे खिलाड़ी हैं जो मध्यक्रम में बल्लेबाजी करते थे और उनको पावर प्ले में खेलने का मौका बहुत कम ही मिला है. अन्य बल्लेबाजों की तरह अगर उनको पावर प्ले में खेलने का मौका मिलता तो शायद उनके चौकों की संख्या और ज्यादा होती. 2013 में साउथ अफ्रीका के खिलाफ खेली गई 169 रनों की अपनी पारी में कुमार संगाकारा ने 18 चौके जड़े थे.

रिकी पोंटिंग (1231चौके)

डॉन ब्रेडमैन के बाद ऑस्ट्रेलिया के सबसे बेहतरीन बल्लेबाज कहे जाने वाले रिकी पोंटिंग वनडे क्रिकेट में सबसे ज्यादा चौके लगाने वाले बल्लेबाजों की लिस्ट में शामिल हैं. ऑस्ट्रेलिया के अजेय टीम बनाने वाले कप्तान रिकी पोंटिंग ने 375 वनडे मैचों में कुल 1231 चौके लगाए हैं. 1998 में जिंबाब्वे के खिलाफ अपनी 145 रनों की पारी के दौरान रिकी पोंटिंग के बल्ले से 18 चौके निकले थे. यह एक पारी में उनके द्वारा लगाए गए सबसे ज्यादा चौके थे.

एडम गिलक्रिस्ट (1162 चौके)

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व विकेटकीपर और विस्फोटक सलामी बल्लेबाज एडम गिलक्रिस्ट को उनके आक्रमक अंदाज के लिए जाना जाता हैं. मैदान पर उतरने के साथ ही वह गेंदबाजों पर टूट पड़ते थे. उनके बल्ले से चौके और छक्के यूं निकलते थे मानों वो गेंदबाजों के साथ खेल रहे हो.

एडम गिलक्रिस्ट ने ऑस्ट्रेलिया के लिए 287 वनडे मैच खेले, इन 287 वनडे मैचों में उनके बल्ले से कुल 1162 चौके निकले. एडम गिलक्रिस्ट द्वारा पुल और हुक शॉट के जरिये लगाए गए चौके आज भी दर्शकों के दिमाग में तरोताजा हैं. एडम गिलक्रिस्ट ने वनडे में 1162 चौकों के अलावा 149 छक्के भी लगाए हैं.

वीरेन्द्र सहवाग (1132 चौके)

सरिता विशेष

वनडे क्रिकेट में सौ से ऊपर का स्ट्राइक रेट रखने वाले भारत के पूर्व सलामी बल्लेबाज वीरेन्द्र सहवाग चौके लगाने के मामले में गांगुली को पीछे छोड़ देते हैं. वीरेन्द्र सहवाग ने 251 वनडे मैचों में 1132 चौके लगाए हैं. अपनी विस्फोटक बल्लेबाजी के लिए मशहूर वीरेन्द्र सहवाग द्वारा प्वाइंट के ऊपर लगाए गए चौके शायद ही कोई फिल्डर रोक पाया हो.

वीरेन्द्र सहवाग ने वनडे क्रिकेट में दो दोहरा शतक लगाया था. सहवाग ने इस पारी में कुल 25 चौके लगाए थे, जो उनके द्वारा एक पारी में लगाए गए सबसे ज्यादा चौके हैं.

सौरव गांगुली (1122 चौके)

भारत के पूर्व कप्तान और गॉड ऑफ ऑफसाइड के नाम से मशहूर रहे सौरव गांगुली सबसे ज्यादा चौके लगाने वाले बल्लेबाजों में हैं. वनडे क्रिकेट में सौरव गांगुली ने सचिन तेंदुलकर के साथ मिलकर पारी की शुरूआत करने की जिम्मेदारी निभाई. सौरव गांगुली ने अपने वनडे करियर में 311 मैच खेले जिनमें उनके नाम 1122 चौके लगाए हैं.

अपनी शानदार कवर ड्राइव के लिए मशहूर रहे सौरव गांगुली जब भी आक्रमक अंदाज में होते थे, उनकी बल्लेबाजी में चार चांद लग जाते थे. वनडे क्रिकेट में 1122 चौके के अलावा उन्होंने 190 छक्के भी लगाए हैं. 1999 में न्यूजीलैंड के खिलाफ ग्वालियर वनडे में सौरव गांगुली ने 153 रनों की पारी के दौरान 18 चौके जमाए थे, जो उनके द्वारा एक पारी में लगाए गए सबसे ज्यादा चौके हैं.