बिहार के खूबसूरत शहर वैशाली के सदर थाने के हाजीपुर-पटना सर्किट हाउस के ठीक सामने राष्ट्रीय राजमार्ग-18 पर भारी मजमा जुटा हुआ था. सड़क के किनारे एक युवक की लाश पड़ी थी. युवक की हत्या गोली मार की गई थी. लाश के पास ही एक मोटरसाइकिल खड़ी थी, जिस में चाबी लगी हुई थी और हेलमेट हैंडल पर टंगा था.

अनुमान था कि मोटरसाइकिल मृतक की ही होगी. भीड़ में किसी आदमी ने इस की सूचना सदर थाने के थानेदार अभय कुमार को दे दी. सूचना मिलने के बाद थानेदार अभय कुमार पुलिस टीम के साथ मौके पर पहुंच गए और जांच में जुट गए.

ये भी पढ़ें- इश्क के दरिया में डूबी नसरीन : प्यार करने की भूल

जांच शुरू करने के पहले उन्होंने एसपी मानवजीत सिंह ढिल्लों और एसडीपीओ महेंद्र कुमार बसंत्री को सूचना दे दी थी. सूचना मिलने के कुछ देर बाद दोनों पुलिस अधिकारी भी मौके पर पहुंच गए थे. यह बात 25 दिसंबर, 2019 की है.

लाश की जांचपड़ताल करने पर पता चला कि हत्यारों ने युवक को सिर और गरदन में 2 गोलियां मारी थीं. मौके का निरीक्षण करने पर यह भी पता चला कि युवक की हत्या कहीं और कर के उस की लाश यहां ला कर फेंक दी गई. अगर उस की हत्या मौके पर की गई होती तो वहां बड़ी मात्रा में खून फैला होता. लेकिन मौके पर मामूली खून था.

पुलिस ने लाश की जामातलाशी ली तो उस के पास से कोई ऐसा सामान बरामद नहीं हुआ, जिस से लाश की शिनाख्त हो सके. वहां खड़ी मोटरसाइकिल की डिक्की खोल कर कागज देखे तो उस की पहचान दीनानाथ राय, निवासी सोंधो रत्ती, थाना गोरौल, जिला वैशाली के रूप में की हुई. इस आधार पर एसओ अभय कुमार ने गोरौल थाने फोन कर के मृतक दीनानाथ राय की शिनाख्त कराने के लिए मदद मांगी.

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
Tags:
COMMENT