कोरोना संकट ने देश में जब दस्तक दी थी तब किसी ने इसे गंभीरता से नहीं लिया था खासतौर से उन नेताओं और मंत्रियों ने जिनहे जनता देश भर की ज़िम्मेदारी सौंपती है.  इस लापरवाही की सजा आज पूरा देश कैसे कैसे भुगत रहा है यह सबके सामने है. सबके सामने तो यह दृश्य भी है कि कोरोना की जंग सिर्फ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अकेले लड़ रहे हैं उनके मंत्रिमंडल के अधिकतर सदस्य हैरतअंगेज तरीके से खबरों से ही गायब हैं.

Tags:
COMMENT