दुनिया के साथ साथ भारत में जिस रफ़्तार से कोरोना बढ़ रहा है, अगर समय रखते सख्त कदम नहीं उठाया जायेगा तो स्थिति और भयावह हो जाएगी। इसके फैलाव को रोकने के लिए केंद्र सरकार ने 1200 से अधिक स्थानों को चिन्हित किया है , भीलवाड़ा  मॉडल के तर्ज पर कर्फ्यू लगा संक्रमण को रोकने की योजना तैयार किया गया है । देश में कुछ इलाके ऐसे हैं, जिन्हे कोरोना वायरस के 'हॉटस्पॉट' के रूप में चिन्हित किया गया हैं, तो जानते है क्या होता है हॉट स्पॉट ?  कैसी है यहाँ व्यवस्था और देश में ऐसे कितने जगह है . जानते है सबके बारे में ...

* क्या होता है कोरोना हॉटस्पॉट :- 

कोरोना के संक्रमण से ग्रसित वैसा इलाका, जहाँ संक्रमित मरीजों की संख्या  6 या 6 से अधिक हो , उस इलाकों को हॉटस्पॉट कहा जाता है.

* हॉटस्पॉट घोषित कैसे करती है सरकार  :-

स्वास्थ्य मंत्रालय ने उन क्षेत्रों को 'हॉटस्पॉट' के रूप में चिन्हित किया है जहाँ सबसे अधिक कोरोना पॉजिविट मरीज पाए जा रहे हैं.  सरकार का कहा है कि 'अगर सरकार को लगेगा कि किसी इलाक़े में संक्रमण के बड़े पैमाने पर फैलने की संभावना है तो सिर्फ एक मामला सामने आने पर भी उस इलाक़े को हॉटस्पॉट घोषित किया जाएगा.'

ये भी पढ़ें- #coronavirus: 62 जिले और सम्पूर्ण भारत में कोरोना 

* यह इलाके कैसे अन्य इलाकों से अलग होंगे :- 

1 कोरोना हॉटस्पॉट के रूप में चिन्हित को सरकार ने सील करने का फैसला किया है, जहां से तबलीगी जमात के लोग पकड़े गए हैं, या जहां पर कोरोना पॉजिटिव मरीजों को रखा गया है.

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
Tags:
COMMENT