रेटिंग: तीन स्टार

फिल्म निर्माता: सतीश कौशिक 

फिल्म निर्देशक: राजेश बब्बर 

कलाकार : रश्मी सोमवंशी, अनिरूद्ध दवे, जानवी सगवान, अंजवी सिंह हूडा, विधि देशवाल, गौतम सौगात, जगबीर राठी और अन्य

हर लड़की को सपने देखने और सपनो को पूरा करने के लिए मेहनत करनी चाहिए. हर लड़की को सपना देखना सिखाने और आगे बढ़ने की प्रेरणा देने के मकसद से निर्माता सतीश कौशिक और निर्देशक राजेश बब्बर हरियाणवी भाषा की फिल्म ‘‘छोरियां छोरों से कम नहीं होती’’ लेकर आए हैं. लेखक व निर्देशक की कुछ कमियों के बावजूद यह फिल्म अपने मकसद को सही ढंग से पेश करने में सफल रहती है. यदि फिल्मकार ने थोड़ी सी मेहनत की होती, तो यह फिल्म पुरूष मानसिकता को बदलने में कारगार होने के साथ साथ एक बेहतरीन फिल्म बन सकती थी. फिर भी यह ऐसी फिल्म है, जिसे हर माता पिता व हर लड़के व लड़की को अवश्य देखनी चाहिए.

Tags:
COMMENT