दिल्ली की सर्दी ने इस बार यहां के लोगों को खूब चकमा दिया है. यह मौसम की ही बेवफाई थी कि मार्च महीने की 13 तारीख को जैसेजैसे फिरोजशाह कोटला के क्रिकेट ग्राउंड पर औस्ट्रेलिया और भारत के बीच खेला जा रहा 5वां और आखिरी वनडे मैच रोमांच की गरमी बढ़ा रहा था, वैसेवैसे बादलों से घिरी दिल्ली ने मेहमान टीम को जीत का तोहफा देना शुरू कर दिया था.

नतीजतन, टौस जीत कर पहले बल्लेबाजी करने उतरी औस्ट्रेलिया की टीम ने भारतीय टीम को 35 रनों से हरा दिया. उस ने तय 50 ओवरों में 9 विकेट खो कर 272 रनों का स्कोर खड़ा किया था. वैसे, जब उस्मान ख्वाजा और पीटर हैंड्सकौम्ब क्रीज पर थे तब लग रहा था कि कहीं वे फिर से 300 के पार न स्कोर को पहुंचा दें पर उन के मिडिल आर्डर के बल्लेबाजों ने कोई खास खेल नहीं दिखाया और पौने 300 से पहले वे सिमट गए.

फिरोजशाह कोटला का मैदान ज्यादा बड़ा नहीं है और यहां की पिच भी बल्लेबाजों के हक में रहती है, इसलिए लग रहा था कि भारत को यह मैच जीतने में दिक्कत नहीं होगी पर जवाब में भारतीय टीम लगातार विकेट गंवाती रही और अपने सभी विकेट खो कर वह 237 रन ही बना सकी. नतीजतन, हमारे कप्तान विराट कोहली के होम ग्राउंड पर 35 रनों की हार के साथ ही यह सीरीज भी हमें गंवानी पड़ी.

इस सीरीज की एक खासीयत यह थी कि इस के पहले 2 मुकाबले भारत ने जीते थे, जबकि औस्ट्रेलियाई टीम ने जबरदस्त वापसी करते हुए लगातार 3 मैच जीत कर सीरीज पर 3-2 से कब्जा जमा लिया. अपनी उम्दा बल्लेबाजी के लिए औस्ट्रेलिया के बल्लेबाज उस्मान ख्वाजा को 'मैन औफ द मैच' और 'मैन औफ द सीरीज' चुना गया.

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
Tags:
COMMENT