ज्यादा नहीं कोई 6-7 महीने पहले की बात है, देर रात एक प्रोफेसर मित्र ने फोन पर बताया था फलां चैनल देखो नवकंज लोचन कंजमुख कर...... की तर्ज पर एक नया भक्त पत्रकार अवतरित हुआ है. क्या हाहाकारी तेवर हैं उसके देखना पट्ठा दूसरे चमचों से पहले पद्म पुरुस्कार ले जाएगा.

Tags:
COMMENT