प्राकृतिक आपदाएं अकसर आती रहती हैं. इन आपदाओं के कारण दुनियाभर में लाखों लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ती है. आंकड़ों के मुताबिक विश्व के कई देश प्राकृतिक आपदाओं के प्रति अत्यधिक संवेदनशील हैं. दुनियाभर के देशों में कभी भूकंप, कभी समुद्री तूफान, कभी भूस्खलन तो कभी बर्फ की चट्टानें खिसकने जैसी आपदाओं से जानमाल की भारी तबाही होती है. इस संदर्भ में भारत भी काफी संवेदनशील है. यहां बहुत से क्षेत्र प्राकृतिक आपदाओं के लिए अति संवेदनशील हैं. देश के ज्यादातर हिस्सों में बाढ़, भूकंप और सूखे जैसी आपदाएं आती रहती हैं. देश की लगभग 70% भूमि सूखे की आशंका की जद में है. बाढ़ और तूफानी चक्रवात यहां अकसर आते रहते हैं. ऐसे में प्राकृतिक आपदाओं के बढ़ते पैमाने ने आपदा प्रबंधन से जुड़े लोगों की जरूरत को बढ़ा दिया है.

COMMENT