सरकार और ट्विटर का विवाद पिछले काफी समय से लगातार चल रहा है. जिसने अब एक नया स्तर ले लिया है. ट्विटर ने शुक्रवार सुबह केंद्रीय आईटी मंत्री रविशंकर प्रसाद का अकाउंट एक घंटे के लिए ब्लॉक कर दिया. जिसके पीछे ये वजह बताई गई कि प्रसाद ने अमेरिकी कॉपीराइट कानून का उल्लंघन किया है. हालांकि बाद में चेतावनी के साथ अकाउंट को दोबारा अनलॉक कर दिया.

इसकी जानकारी खुद रविशंकर प्रसाद ने ट्विटर समेत सभी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर दी. प्रसाद ने लिखा- 'ट्विटर जानबूझकर आईटी के नियमों का पालन नहीं कर रहा है. केंद्रीय मंत्री ने कहा कि ट्विटर ने अमेरिकी कानून का हवाला देते हुए उनके सोशल मीडिया अकाउंट को ब्लाक कर दिया था. ऐसे में सोशल साइट वेबसाइटों में ट्विटर की दादागिरी बढ़ रही है. कोई भी कंपनी व्यापार भारत में करे और उस पर कानून अमेरिका के लागू हों ये नहीं चल पाएगा. केंद्रीय मंत्री का कहना है कि भारत अपनी डिजिटल संप्रभुता से समझौता नहीं करेगा. प्रसाद ने कहा कि 26 मई से प्रभाव में आए इंटरमेडियरी गाइडलाइन का ट्विटर ने पालन नहीं किया है. बाद में ट्विटर ने उनका अकाउंट अनलॉक कर दिया.'

ये भी पढ़ें- भारत भूमि युगे युगे: सोने की चिड़िया

पर सवाल ये है कि क्या ट्विटर मनमाने ढंग से एकतरफा कार्रवाई कर सकता है? प्रसाद ने आरोप लगाया कि अब यह भी साफ है कि ट्विटर इंटरमीडियरी गाइडलाइंस का पालन करने से इनकार क्यों कर रहा है, क्योंकि अगर ट्विटर इसका पालन करता है, तो वह किसी के भी अकाउंट तक एक्सेस से मनमाने तरीके से इनकार नहीं कर पाएगा. उन्होंने कहा कि माइक्रो-ब्लॉगिंग साइट को केवल अपना एजेंडा चलाने में रूची है.

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
Tags:
COMMENT