इस मूर्ख आतंकवादी का हर बयान भोपाल के वोटरों का मजाक उड़ा रहा है.  अगर लोग पार्टी के बजाय अच्छे लोगों को वोट करें तो सदन में सब अच्छे व्यक्ति आएंगे तो जनता के हित के काम कर पाएंगे. इसलिए भाजपा या कांग्रेस को न चुनकर हम किसी अच्छे व्यक्ति को चुनते  तो आज भोपाल का ऐसा मजाक नहीं बन रहा होता. पर दिक्कत ये है कि अच्छे व्यक्ति के पास प्रचार प्रसार के लिए इतना पैसा नहीं होता.

Tags:
COMMENT