ज्येष्ठ पार्श्व गायक और प्रशंसित आवाज के अभिनेता सुदेश भोसले का संगीत की दुनिया में योगदान अज्ञात नहीं है. हालांकि, कम ही लोग जानते हैं कि उनकी आवाज में अभिनय से उन्हें महारत हासिल है और उन्हें इंडस्ट्री में सराहना मिली है.

हाल ही में सुदेश भोसले को वॉयस एक्टिंग के शिल्प में उनके अनुकरणीय योगदान के लिए इंडिया वॉयस फेस्ट 2019 से सम्मानित किया गया. बांद्रा में रंग शारदा ऑडिटोरियम में आयोजित इसके दूसरे संस्करण में इंडिया वॉयस फेस्ट 2019 को अखिल भारतीय आवाज कलाकारों, रेडियो के डबिंग कलाकारों, फिल्मों या टीवी द्वारा जो पर्दे के पीछे से मदद करते हैं उन्हे समर्पित था.

ये भी पढ़ें- सुष्मिता सेन ने बेटियों के साथ किया धमाकेदार डांस,  देखें ये वीडियो

“अक्सर, कुछ अभिनेता अपनी खुद की डबिंग नहीं करते हैं. हम अभिनेताओं को आवाज देते हैं, "सुदेश भोसले कहते हैं," अमोल सेन, हरीश भीमनी जूरी का हिस्सा थे जिन्होंने मुझे इस साल डबिंग और वॉयस कलात्मकता की दुनिया में मेरे योगदान के लिए इस पुरस्कार के लिये मेरा चुनाव किया. "

यह सम्मान पाने पर सुदेश भोसले ने साझा किया, “यह वास्तव में अच्छा लगा. इस दौरान मेरी वरिष्ठ कलाकारों के साथ-साथ युवा पीढ़ी के कलाकारों से भी मुलाकात हुई. ”उनकी सलाह चाहने वाले मौजूद युवा को सलाह देते हुए उन्होंने कहा, “बस पर्दे के पीछे काम करने पर ना अड़े, सामने की तरफ आकर अपनी कला उजागर करने की कोशिश करें और हमेशा कैमरे के पीछे न रहें. आप अपना नाम, शोहरत कमाने के साथ-साथ और पैसा कमाएंगे.”

ये भी पढ़ें- नवाबों की नगरी में खास लोगों के बीच मनेगा इस एक्ट्रेस का बर्थडे

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
Tags:
COMMENT