बॉलीवुड में हमेशा जिसकी लाठी उसकी भैंस वाली कहावत ही चरितार्थ होती रही है. फिर चाहे वह किसी कलाकार के पारिश्रमिक का मसला हो अथवा छोटे बड़े किरदार का मिलना हो या  सीरियल में अभिनय का मसला हो. जो सफल है, जो ताकतवर है, उनकी हर बात मानी जाती है.

एक कटु सत्य है. कोरोनावायरस व लॉकडाउन की वजह से पूरे 3 महीने तक  फिल्म टीवी सीरियल और वेब सीरीज की शूटिंग बंद रही. कोरोना महामारी अभी भी अपने चरम पर है. मगर ब्रॉडकास्टर को विज्ञापन से जो नुकसान हो रहा था उसके चलते सभी ब्रॉड कॉस्टर ने सीरियल निर्माताओं पर दबाव डाला और फिर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री से बात करके शूटिंग शुरू करने की इजाजत ले ली. महाराष्ट्र सरकार ने 31 मई को शूटिंग शुरू करने की इजाजत दे दी थी. मगर शूटिंग शुरू नहीं हो हो पा रही थी, क्योंकि ब्रॉड कास्टर यानी कि चैनल ने हर सीरियल के बजट में 30% तक की कटौती कर दी है.

ये भी पढ़ें-सीरियलों की शूटिंग शुरू, मगर दो वक्त के खाने के लिए मोहताज लाखों लोग

इस कटौती के चलते सीरियल के निर्माताओं ने अपने कलाकारों कि पारिश्रमिक राशि में कटौती करनी शुरू कर दी. इस पर कलाकार तैयार नहीं थे. लगभग 22 से 24 दिनों तक काफी बातचीत होती रही, अंततः कलाकार को झुकना पड़ा और कुछ कटौती के साथ 25 जून से सीरियल की शूटिंग शुरू हो सकी. कुछ कलाकारों ने अपनी फीस में कटौती करने की बजाए सीरियल को अलविदा कह दिया.

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
Tags:
COMMENT