रोजमर्रा की जिंदगी में हमें वाई-फाई की जरूरत वैसे ही पड़ती है, जैसे बिजली और पानी की. स्मार्टफोन, टीवी, कंप्यूटर और वीडियो गेम कंसोल को Wi-Fi के जरिए इंटरनेट से कनेक्ट किया जा सकता है. ज्यादातर इंटरनेट सर्विस प्रोवाइडर्स बेसिक मौडम राउटर देते हैं, जिसके चलते घर के काफी कोने वाई-फाई की जद में नहीं आ पाते. ऐसे में अगर Wi-Fi में कुछ दिक्कतें आ जाएं, तो उन्हें इस तरह दूर करें.

राउटर को सही जगह पर रखें

वाई-फाई राउटर को रखने का सबसे बढ़िया तरीका घर का सेंटर प्वाइंट है. इससे आपको अपने घर के हर कोने में वाई-फाई के सिग्नल मिलेंगे. साथ ही, आप वाई-फाई के राउटर को अपने आई लेवल या फिर इससे ऊपर के लेवल पर रखने की कोशिश करें, इससे आपका वाई-फाई सिग्नल बेहतर बना रहेगा.

अच्छी रेंज के लिए रिपीटर्स

कई बार इंटरनेट सर्विस प्रोवाइड करने वाली कंपनी, जो राउटर देती है, वह अक्सर पूरे घर में वाई-फाई का नेटवर्क नहीं पहुंचा पाता. इसके लिए आप रिपीटर का इस्तेमाल कर सकते हैं. यह डिवाइस आपके राउटर से वाई-फाई सिग्नल लेकर उसके कवरेज एरिया को बढ़ा देगी. रिपीटर से कनेक्ट होने के लिए डब्लूपीएस सबसे आसान तरीका है. इसके लिए आपको अपने राउटर के डब्लूपीएस को इनेबल करने के साथ रिपीटर के डब्लूपीएस बटन को औन करना होगा.

गेस्ट नेटवर्क

आप अपने राउटर पर गेस्ट नेटवर्क को इनेबल कर, उसका सेपरेट पासवर्ड रख लें. इससे घर पर आने वाले मेहमानों को आपको मुख्य पासवर्ड नहीं बताना पड़ेगा, जब आपके दोस्त घर से चले जाएं, तो आप गेस्ट नेटवर्क को बंद करके अपने होम वाई-फाई को फिर से शुरू कर सकते हैं.

रीबूट करते रहें

वैसे तो राउटर्स हमेशा काम करते रहने के लिए बनाए गए हैं, मगर कभी-कभार आप इन्हें रीबूट भी कर सकते हैं. ध्यान रहे रीबूट करें, रीसेट नहीं. सबसे बेहतर तरीका यह होगा कि आप राउटर को औफ करके कुछ देर बाद औन करें. कई बार कनेक्टिविटी में समस्या आने पर भी यह तरीका काम करता है. बंद करके औन करने पर इंटरनेट सही से चलने लगता है.

COMMENT