भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली का विवादों से भी पुराना नाता रहा है. कोहली मैदान पर अपने आक्रामक अंदाज के लिए भी जाने जाते हैं. वे कई बार खेल के इतर अपने व्यवहार के चलते चर्चाओं में रहे हैं. ऐसा ही एक वाकया 2012 के औस्ट्रेलिया दौरे पर सामने आया था. उस दौरे पर एक मैच में वह औस्ट्रेलियाई फैन्स को मिडल फिंगर (एक अभद्र इशारा) करते हुए कैमरे पर कैद हो गए थे. यह टेस्ट मैच ऐडिलेड में खेला गया था.

एक मासिक पत्रिका से बात करते हुए विराट ने कहा, ‘जो चीज मुझे सबसे ज्यादा याद है वह औस्ट्रेलियाई फैंस को (2012) मेरा उंगली से इशारा करना है.’ कोहली ने उस घटना को याद करते हुए कहा- ‘मैच रेफरी रंजन मदुगले ने अगले दिन मुझे अपने कमरे में बुलाया. मुझे लगा कि आखिर क्या मामला है. मैच रेफरी ने मुझसे पूछा कल बाउंड्री पर क्या हुआ?’ कोहली ने कहा मुझे कुछ समझ नहीं आया. उन्होंने कहा, ‘मैंने रेफरी से कहा कि वह मजाक था.’ इसके बाद रेफरी ने मेरे सामने अखबार फेंका जिसमें फ्रंट पेज पर मेरी बड़ी तस्वीर थी. मैंने कहा, ‘मैं माफी चाहता हूं, प्लीज मुझे बैन मत करना!’ विराट ने कहा कि मैं उससे बच निकला. मैच रेफरी अच्छे इंसान थे, वह समझ गए कि मैं युवा था और ऐसी चीजें हो जाती हैं.

उन्होंने कहा, ‘मैं युवावस्था में किए गए कई कामों पर काफी हंसता हूं लेकिन मुझे गर्व है कि मैंने अपना तरीका नहीं बदला क्योंकि इसी वजह से मैं यहां हूं और मैं किसी के लिए खुद को बदलना नहीं चाहता. मैं जो था उसे लेकर मैं काफी खुश हूं.’

बता दें कि कोहली इंग्लैंड के खिलाफ चल रही सीरीज में बतौर बल्लेबाज तो काफी कामयाब रहे हैं लेकिन पांच मैचों की सीरीज में इंग्लैंड ने 3-1 की अजेय बढ़त बना ली है. सीरीज का पांचवां और आखिरी मैच 7 सितंबर से ओवल में खेला जाएगा.