वैसे तो यह बात खुद में अटपटी लगती है कि आप को मई-जून की झुलसती गरमी में रेगिस्तानी राजस्थान की गुलाबी राजधानी जयपुर में घूमने-फिरने के मकसद से जाने की सलाह दी जाए लेकिन अगर कभी ऐसा होता है और आप आमेर किले के आसपास हैं तो वहां के छोटे-बड़े रेस्टोरेंटों में यह जरूर पूछ लें कि रात का खाना मिल जाएगा या नहीं.

Tags:
COMMENT