गूगल अपनी सोशल नेटवर्किंग सर्विस गूगल+ को आज से यानि 2 अप्रैल से बंद होने जा रही है. जी हां सही सुना आपनें कंपनी गूगल+ के यूजर्स का डेटा 2 अप्रैल से डिलीट करना शुरू कर देगी. गूगल ने अपनी इस सर्विस को पूरी तरह बंद करने की घोषणा पिछले साल ही कर दी थी. 2019 में फरवरी से ही कंपनी ने गूगल+ के कई फीचर्स औफलाइन करना शुरू कर दिए हैं. कंपनी अब अपने यूजर्स का डेटा डिलीट करने की शुरुआत करने जा रही है, ऐसे में जरूरी है कि आप डेटा का बैकअप रख लें या फिर अकाउंट आर्काइव में सेव होने से पहले ही डिलीट कर दें.

क्यों बंद हो रहा है गूगल प्लस?

एक बड़ा सिक्योरिटी इश्यू सामने आने के बाद गूगल ने इस सर्विस को बंद करने का फैसला लिया था. गूगल का कहना था कि गूगल प्लस को बंद करने की वजह इसे यूजर्स की ओर से मिल रही प्रतिक्रिया भी रही. कंपनी का कहना है कि सोशल प्लैटफौर्म पर यूजर्स का इंगेजमेंट तेजी से घटता जा रहा था और इसपर ज्यादातर यूज सेशन पांच सेकंड्स तक सिमट गए थे.

साथ ही बताया जा रहा है कि एक सौफ्टवेयर गड़बड़ी के कारण 2015 से 2018 के बीच बाहरी डेवलपर्स ने गूगल प्लस प्रोफाइल के डेटा में सेंध लगाने की कोशिश की. गूगल के मुताबिक करीब 5 लाख लोगों के निजी डेटा में सेंध लगाई गई थी. हालांकि गूगल ने दावा किया है कि उस बग को ठीक कर लिया गया था. असुरक्षित डेटा में प्रोफाइल नेम, ईमेल ऐड्रेस, औक्युपेशन, जेंडर और ऐज जैसे डेटा शामिल थे. कंपनी का दावा है कि इसके अलावा और कोई भी डेटा इसमें शामिल नहीं था जिसे आपने गूगल प्लस पर पोस्ट किया हो.

Tags:
COMMENT