कहानी के बाकी भाग पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

‘‘कुछ खाया तुम ने कि नहीं...’’‘‘नहीं...पर आप चिंता मत करोअभी अक्षत आता होगा। उसे मम्मी के पास बैठा कर मैं कुछ खा लूंगी,’’ उस ने फोन रख दिया था। तबियत में सुधार हैसुन कर अच्छा लगा।

दूसरे दिन मैं ने जबरदस्ती डिस्चार्ज ले लिया। मुझे डाक्टर और नर्स को डांटना पड़ा था, ‘‘मैं अपनी मरजी से डिस्चार्ज ले रहा हूं...आप मुझे डिस्चार्ज कर दें...अन्यथा मैं ऐसे ही वार्ड के बाहर चला जाऊंगा...’’ मेरी खिसियाहट का असर यह हुआ कि दोपहर तक मुझे डिस्चार्ज दे दिया

गया। अक्षत ने बाकी औपचारिकताएं पूरी कर लीं और मैं वार्ड के बाहर निकल आया.‘‘मुझे मम्मी के पास ले चलो...’’‘‘अभी आप कमरे पर चलो...नहा लो फिर चलना...’’ रोली ने एक लौज का रूम किराए पर ले लिया था। मैं सहमत भी हो गया था। प्रतिभा मुझे इस हालत में देखेगी तो उस की चिंता और बढ़ जाएगी.

शाम को मैं रोली के साथ आईसीयू में पहुंचा जहां प्रतिभा भर्ती थी। आईसीयू में बगैर पीपीई किट पहने प्रवेश नहीं करने दिया जा रहा था। मुझे भी पीपीई किट पहननी पड़ी। अच्छा थाइस के कारण प्रतिभा मेरी हालत को नहीं देख पाएगी. प्रतिभा के चेहरे पर मास्क लगा था। वह जोरजोर से सांसें ले रही थी। उस के चारों ओर मशीनें लगी थीं जो उस का औक्सीजन लेवलपल्स लेवल और बीपी बता रही थीं। इन मशीनों की भारीभरकम आवाज से पूरा कमरा गूंज रहा था। वार्ड में करीब 8 मरीज थे सभी की हालत ऐसी ही थी।

मैं लगभग भागता हुआ प्रतिभा के बैड के पास जा कर खड़ा हो गया था। उस की आंखें बंद थीं पर मेरे आने की आहट से उस ने धीरे से आंखें खोलीं और मुझे सामने देखते ही उस की आंखों से आंसू बह निकले। मैं ने उस के सिर पर हाथ फेरा,"कैसी हो?’’ वह एकटक मेरी ओर ही देख रही थी। आंसू लगातार बह रहे थे। मैं ने उस का हाथ अपने हाथों में ले लिया। उस ने मेरे हाथों को जोर से पकड़ लिया, "मैं अब ठीक हूं...देखो ठीक लग रहा हूं न...’’

आगे की कहानी पढ़ने के लिए सब्सक्राइब करें

सरिता डिजिटल

डिजिटल प्लान

USD4USD2
1 महीना (डिजिटल)
  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
सब्सक्राइब करें

डिजिटल प्लान

USD48USD10
12 महीने (डिजिटल)
  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
सब्सक्राइब करें

प्रिंट + डिजिटल प्लान

USD100USD79
12 महीने (24 प्रिंट मैगजीन+डिजिटल)
  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
सब्सक्राइब करें
और कहानियां पढ़ने के लिए क्लिक करें...