लेखक-  सुनील शर्मा

पाकिस्तानी क्रिकेट टीम के कोच मिक्की आर्थर ने अचानक बौब वूल्मर की याद दिला दी. दरअसल, इस वर्ल्ड कप में भारत से हारने के बाद पाकिस्तान टीम की जो जगहंसाई हुई थी उस से मिक्की आर्थर बड़े दुखी थे. दुखी ही नहीं वे इतने तनाव में आ गए थे कि खुदकुशी करना चाहते थे.

दक्षिण अफ्रीका से मैच जीतने के बाद मीडिया से बात करते हुए मिकी आर्थर ने कहा था, “यह सब बहुत जल्दी हुआ. आप ने एक मैच हारा, दूसरा जीता. यह वर्ल्ड कप है, यहां मीडिया होता है, जनता की उम्मीदें होती हैं और ऐसे में आप बचने के उपाय खोजते हैं, इसलिए पिछले रविवार को मैं खुदकुशी करना चाहता था.”

रविवार, 16 जून को भारत और पाकिस्तान के बीच मैनचैस्टर में मुकाबला खेला गया था जिसे वह 89 रनों से हार गया था.

ये भी पढ़ें- अफसोस… ‘गब्बर’ नहीं दिखेगा इस वर्ल्ड कप में

मिकी आर्थर ने यह जो खुदकुशी की बात कही उस से पाकिस्तान के उन कोच की याद आ गई जिन की एक वर्ल्ड कप में पाकिस्तान के मैच हारने के बाद रहस्मय तरीके से मौत हो गई थी.

17 मार्च, 2007 को पाकिस्तान और आयरलैंड के बीच वर्ल्ड कप मैच हुआ था जिस में पाकिस्तान की टीम बुरी तरह हार कर टूर्नामेंट से ही बाहर हो गई थी. वह रात बॉब वूल्मर की आख़िरी रात साबित हुई. दूसरे दिन सुबह उन की लाश ही बरामद हुई थी.

ये भी पढ़ें-  युवराज ने कहा क्रिकेट को अलविदा

तब काफी बवाल हुआ था. यह मौत कुदरती थी या उन की हत्या की गई थी, इस पर काफी बहस हुई थी. पाकिस्तानी खिलाडी भी शक के दायरे में आए थे. कप्तान इंजमाम उल हक, असिस्टेंट कोच मुश्ताक अहमद और टीम मैनेजर तलत अली को पूछताछ के लिए रोका गया था. ऐसी खबरें भी आई थीं कि बॉब वूल्मर की पाकिस्तानी टीम से बस में लड़ाई हुई थी. कोई इसे लोकल गैंगस्टर्स का काम भी बता रहा था.

पर इस घटना के तकरीबन 3 महीने बाद 12 जून को यह कह कर केस बंद कर दिया गया था कि बौब वूल्मर की मौत कुदरती थी.

Tags:
COMMENT