जब टीम इंडिया से केएल राहुल और हार्दिक पांड्या को एक टेलीविजन शो में महिलाओं के खिलाफ अनर्गल बातें करने के चक्कर में बाहर कर दिया था तब उन की जगह नए नवेले शुभमन गिल और विजय शंकर को मौका दिया था.

न्यूजीलैंड के खिलाफ खेले गए चौथे वनडे मैच में जब शुभमन गिल ने मैदान पर एंट्री मारी थी तो उन के सामने कप्तान रोहित शर्मा खड़े थे जो अपना 200 वां वनडे मैच खेल रहे थे. भारत ने अपना पहला विकेट शिखर धवन के रूप में खो दिया था.

शुभमन गिल ने शुरुआत में जिस तरह से शौट खेले तो समझ आया कि यह खिलाड़ी तकनीक और तेवर का पक्का है और अगर इसे सही मौके मिले तो यह लंबी रेस का घोड़ा हो सकता है. पर आज भारत का दिन नहीं था और वह बुरी तरह हार गया. शुभमन गिल भी कोई खास करिश्मा नहीं कर पाए. वे 21 गेंदों में बस 9 रन ही बना पाए.

लेकिन अभी उन के सामने बहुत लंबा कैरियर पड़ा है और हमें याद रखना चाहिए कि अपनी धाकड़ बल्लेबाजी के लिए मशहूर शुभमन गिल ने साल 2017 में पंजाब की तरफ से रणजी ट्रौफी में खेलते हुए फर्स्ट क्लास क्रिकेट में डेब्यू किया था. तब बंगाल के खिलाफ गए एक मैच में उन्होंने अर्धशतकीय पारी खेली थी. इतना ही नहीं, भारत को साल 2018 में हुए अंडर 19 वर्ल्ड कप जिताने में शुभम गिल ने अहम भूमिका निभाई. वे इस वर्ल्ड कप में ‘मैन औफ द टूर्नामेंट’ भी चुने गए थे.

साल 1999 में पंजाब के फाजिल्का में जन्मे शुभमन गिल की बचपन से ही इस खेल में दिलचस्पी थी, जिसे उन के पिता लखविंदर सिंह ने सही समय पर पहचान लिया था.

आज के वनडे मैच में शुभमन गिल के हेलमेट पर एक तेज गेंद लगी थी जिस की मार से वे जल्दी उबर भी गए थे पर सामने गिरते दिग्गज बल्लेबाजों के विकेटों ने उन का ध्यान भंग कर दिया और वे भी आउट हो गए.

यह पहला मैच उन के लिए एक बुरे सपने जैसा है पर उम्मीद है कि अगले मैच में भी वे टीम में शामिल रह कर मैदान पर नजर आएंगे और अपनी बल्लेबाजी से लोगों का मनोरंजन करेंगे.

Tags:
COMMENT