लेखक- रोहित और शाहनवाज 

पंजाब में हाल ही में हुए निकाय चुनावों में भारतीय जनता पार्टी के लिए आक्रोश साफ सीधे देखा जा सकता है. पंजाब आकर हम ने कई लोगों से बात की और उन से पूछा की यदि किसान आंदोलन नहीं होता तो क्या यहां पर लोग भाजपा का समर्थन करते? तो कईयों ने हमारे इस सवाल का जवाब ना में ही दिया. यहां लोगों का यही मानना है की यदि किसान आंदोलन नहीं भी होता तो भी वो भाजपा को बढ़ती महंगाई, खत्म होते रोजगार, पेट्रोल डीजल के बढ़ते दामों और गलत आर्थिक नीतियों इत्यादि जैसे गंभीर मुद्दों को ध्यान में रखती और उन का मैनडेट लगभग ऐसा ही होता जैसा अभी दिखाई दे रहा है.

Tags:
COMMENT