आम लोगों और खेल प्रेमियों को न्यूजीलैंड के हाथों भारतीय टीम को मिली करारी शिकस्त का मलाल लगभग खत्म हो चला है लेकिन जिन्होंने भारतीय टीम की जीत पर सट्टा लगाया था. वे सटोरिये 10 जुलाई की शाम 7 बजे तक उससे भी ज्यादा रकम गंवा चुके हैं .जो उन्होंने लोकसभा चुनाव के दौरान भाजपा पर दांव लगाकर कमाई थी . कुछ तो एक झटके में कंगाली के कगार पर पहुंच चुके हैं और अपनी जमीन जायदाद बेचने प्रापर्टी ब्रोकर्स को कह चुके हैं जिससे बुकियों का पैसा चुकाया जा सके.

Tags:
COMMENT