असलम शेर खान हाकी के जाने माने खिलाड़ी रहे हैं, जिन्हें कांग्रेस ने अपने सुनहरे वक्त में पार्टी में भर्ती कर लिया था. मकसद मुसलमानों को अपने पाले में बनाए रखना था. भोपाल के इस कांग्रेसी खिलाड़ी को केंद्रीय मंत्रिमंडल में भी जगह दी गई थी, लेकिन असलम जमीनी नेता साबित नहीं हो पाये और धीरे धीरे वे भी सैकड़ों कांग्रेसी नेताओं की तरह गुजरे कल का अफसाना बन कर रह गए.

COMMENT