हर कोई अपने साथी से कुछ उम्मीद रखता है. जहां उम्मीदें आपको जोड़ती है वही रिश्तों को तोड़ने का एक बड़ा कारण भी होती हैं. जरुरत से अधिक उम्मीदें करने से आप निराशा की भावना महसूस करने लगते हैं और यह आपके रिश्तों में खटास पैदा करता है. एक हेल्दी रिलेशन बनाए रखने के लिए जरुरी है कि आप अपने साथी से ये उम्मीदें ना ही रखें.

कि वो खुद से आपको पढ़ ले

अगर आप अपने साथी से उम्मीद करते हैं कि वो आपको समझें और जानें तो यह सही है लेकिन अगर आप चाहते हैं कि आपका साथी आपका दिमाग पढ़ लें और आपकी हर बात को बिना बोले समझ जाए तो ऐसा नहीं हो सकता है. आपकी क्या जरुरते हैं ये समझना आसान है लेकिन आप किस वक्त क्या चाहते हैं ये पूरी तरह से समझना मुश्किल है. वो आपकी इच्छा के लिए अंदाजा जरुर लगा सकते हैं लेकिन हर वक्त उनका अंदाजा सही रहें ऐसा नहीं हो सकता.

ये भी पढ़ें- बच्चों को जरूर बताएं, क्या होता है गुड टच और बैड टच

कि वो आपको हमेशा खुश रखेगा

बहुत से लोग किसी भी रिश्ते को जोड़ने से पहले सोचते हैं कि उनका साथी उन्हें हमेशा खुश रखेगा. बल्कि कुछ लोगों का मानना है कि वो तब तक खुश नहीं रह सकते हैं जब तक कि वो किसी रिलेशन में नहीं हैं. वास्तव में ऐसा नहीं है, आप किसी दूसरे इंसान से अपने लिए खुशी नहीं ढ़ूढ़ सकती हैं. खुशी वो चीज है जो आपको अपने अंदर मिलती है या खुद से मिलती है.

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
Tags:
COMMENT