हर कोई अपने साथी से कुछ उम्मीद रखता है. जहां उम्मीदें आपको जोड़ती है वही रिश्तों को तोड़ने का एक बड़ा कारण भी होती हैं. जरुरत से अधिक उम्मीदें करने से आप निराशा की भावना महसूस करने लगते हैं और यह आपके रिश्तों में खटास पैदा करता है. एक हेल्दी रिलेशन बनाए रखने के लिए जरुरी है कि आप अपने साथी से ये उम्मीदें ना ही रखें.

कि वो खुद से आपको पढ़ ले

अगर आप अपने साथी से उम्मीद करते हैं कि वो आपको समझें और जानें तो यह सही है लेकिन अगर आप चाहते हैं कि आपका साथी आपका दिमाग पढ़ लें और आपकी हर बात को बिना बोले समझ जाए तो ऐसा नहीं हो सकता है. आपकी क्या जरुरते हैं ये समझना आसान है लेकिन आप किस वक्त क्या चाहते हैं ये पूरी तरह से समझना मुश्किल है. वो आपकी इच्छा के लिए अंदाजा जरुर लगा सकते हैं लेकिन हर वक्त उनका अंदाजा सही रहें ऐसा नहीं हो सकता.

ये भी पढ़ें- बच्चों को जरूर बताएं, क्या होता है गुड टच और बैड टच

कि वो आपको हमेशा खुश रखेगा

बहुत से लोग किसी भी रिश्ते को जोड़ने से पहले सोचते हैं कि उनका साथी उन्हें हमेशा खुश रखेगा. बल्कि कुछ लोगों का मानना है कि वो तब तक खुश नहीं रह सकते हैं जब तक कि वो किसी रिलेशन में नहीं हैं. वास्तव में ऐसा नहीं है, आप किसी दूसरे इंसान से अपने लिए खुशी नहीं ढ़ूढ़ सकती हैं. खुशी वो चीज है जो आपको अपने अंदर मिलती है या खुद से मिलती है.

कि आपके साथी की धारणा आपकी तरह हो

इस उम्मीद के कारण सम्बंधों में अधिकतर झगड़े होते हैं. किसी भी चीज को लेकर आपकी धारणाएं आपके साथी से अलग हो सकती हैं. धारणाएं कई तरह की चीजों से बनती हैं. आप किसी भी विषय को लेकर धारणाएं अपने अनुभवों और साक्ष्यों के आधार पर बनाते हैं. जाहिर है कि आपके और आपके साथी के अनुभव आपसे अलग होंगे. तो आप दोनों की धारणाएं भी अलग होंगी.

आपने ये कहावत तो सुनी ही होगी कि अगर आप चाहते हैं कि हर काम सही तरीके से हो तो वो काम खुद करें. जो चीजें आपको खुश रखती हैं और आप चाहते हैं कि वो बिल्कुल उचित तरीके से हो तो बेहतर है कि आप खुद ही उस काम को कर लें. अपने पार्टनर से ये उम्मीद करना कि वो सभी काम बिल्कुल सही करें और उससे कोई गलती ना हो,  खुद एक गलती करने जैसा है. अगर आप ये उम्मीद कर रहे है और आपका साथी उस उम्मीद पर खरा नहीं उतरता है तो आपको निराशा होगी और आप सोचेंगे कि आपका साथी परफेक्ट नहीं है.

क्या उम्मीदें करनी चाहिएं

एक रिश्ते में खुश रहने के लिए बहुत ज्यादा उम्मीदें लगाना गलत है लेकिन इसका मतलब ये नहीं है कि आप अपने पार्टनर से उम्मीद ही ना रखें. आप अपने साथी से वो उम्मीदें करें जो वास्तव में करनी चाहिए. कुछ उम्मीदें है जो आपको अपने पार्टनर से करनी चाहिए.

ये भी पढ़ें- भूलकर भी न करें रिश्तों में दिखावा

  • आपका सम्मान करे.
  • आपसे प्यार करे.
  • आपके साथ ईमानदार हो.
  • सब्र और धैर्य की भावना हो.
Tags:
COMMENT