मोरिंग बहुत ज्यादा गुणकारी पौधा है. इसे कई जगहों पर सहजन के नाम से भी जाना जाता है. इसे कई तरह के इलाज के लिए भी इस्तेमाल किया जाता है. आयुर्वेद में इसे कई तरह से इस्तेमाल किया जाता है. जैसे इसके फूल और पत्ते को दवाओं में इस्तेमाल किया जाता है.

मोरिंग की पत्तियां छोटी होती है जैसे इमली कि पत्तियां होती है. इसमें कई तरह के प्रोटीन और तत्व पाए जाते हैं. मोरिंग की पत्तियों की महक भी अच्छी होती है. ज्यादातर घरों में मोरिंग के साथ नारियल को मिक्स करके सब्जी बनाया जाता है. जो बेहद ही ज्यादास्वादिष्ट होता है.

ये भी पढ़ें- आलू पनीर और प्याज के परांठे बनाएं ऐसे

आइए जानते हैं कैसे बनाएं मोरिंग और नारियल की सब्जी

समाग्री

मोरिंग के पत्ते 3-4 कप

घी

करी पत्ता

खरी लाल मिर्च

तीन, चार पत्ता

काजू के टुकड़े

ये भी पढ़ें- गुजराती कढ़ी बनाने कि विधि

राई

घिसा नारियल

नमक

काली मिर्च

लाल मिर्च पाउडर

विधि

सबसे पहले मोरिंग की पत्तियों को पौधे से हटा लें. अब उसे छलनी से छआनकर धो लें. एक कड़ाही में घी गर्म करें और अब इसमें राई डालें. जब राई तड़क जाए तो उसमें करी पत्ता और खड़ी लाल मिर्च डालें. अब इसे कुछ सेकेंड तक भूनें. इसके बाद इसमं काजू के कुछ टुकड़े डालकर लाल होने तक भूनें.

ये भी पढ़ें- घर पर बनाएं पनीर पुलाव, मेहमान भी हो जाएंगे खुश

अब तड़के में सहजन की पत्तियां डालें और लाल होने तक भूनें. नमक डालकर इसे अच्छे से मिलाएं. अब सहजन में घिसा नारियल मिलाएं और देर तक चलाते रहें. ढ़क्कन लगाकर कुछ देर तक चलाते रहें.

सब्जी में स्वाद अनुसार लाल मिर्च पाउडर और खटाई डालकर मिलाएं, कुछ देर पकाने के बाद सब्जी को आंच से हटा दे आप चाहे तो इसे रोटी और चावल के साथ पड़ोसे

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
Tags:
COMMENT