हेयर फौल आज के इस पोल्युशन भारे टाइम में कोई नई बात नहीं है. आम तौर पर महिलाओं के साथ देखी जाने वाली हेयर फौल की प्रोब्लम पुरुषों में भी देखी जाने लगी हैं. लेकिन बड़े बालों के कारण पुरुषों की तुलना में महिलाएं इससे अधिक रूप से प्रभावित होती हैं. औस्ट्रेलियन जर्नल औफ जनरल प्रैक्टिस में प्रकाशित एक अध्ययन में शोधकर्ताओं में खुलासा किया कि करीब 49 फीसदी महिलाएं अपने जीवन में बालों के झड़ने की समस्या से परेशान होती हैं.

हेयर फौल के कारण

जेनेटिक, हार्मोनल असंतुलन और दूषित पर्यावरण, कई अध्ययनों में कहा गया कि रोजाना 50 से 100 बालों का टूटना सामान्य है लेकिन अगर संख्या निरंतर अंतराल पर बढ़ती है तो आपको इस गंभीर समस्या से निपटने के लिए डॉक्टर से बात करनी चाहिए. इसलिए आज हम आपको ऐसी 4 स्वास्थ्य स्थितियों के बारे में बता रहे हैं, जो बालों के झड़ने की गंभीर समस्या का कारण बन सकते हैं.

ये भी पढ़ें-  5 टिप्स: मुंह की बदबू से पाए ऐसे छुटकारा…

1.गर्भावस्था में बालों का झड़ना

गर्भावस्था एक ऐसी स्थिति है, जिसके दौरान महिलाओं को बहुत सा तनाव हो सकता है और इसलिए बालों का झड़ना अधिक होता है. तनाव बालों की कमजोर का मुख्य कारण होता हैं. इसलिए डिलीवरी के बाद भी आपकी कंघी पर बालों की संख्या आपको बढ़ी हुई दिखाई दे सकती है.

2.हाइपो-थायरायडिज्म

हाइपोथायरायडिज्म की स्थिति में आपका थायराइड हार्मोन स्तर नीचे चला जाता है. इन हार्मोन का स्तर गिरने से आपके बाल कमजोर हो सकते हैं और इसके कारण बाल झड़ सकते हैं.

ये भी पढ़ें- कब्ज से छुटकारा पाने के लिए अपनाएं ये 3 आसान उपाय

आगे की कहानी पढ़ने के लिए सब्सक्राइब करें

डिजिटल

(1 साल)
USD10
सब्सक्राइब करें

डिजिटल + 24 प्रिंट मैगजीन

(1 साल)
USD79
सब्सक्राइब करें
और कहानियां पढ़ने के लिए क्लिक करें...