दूध सेहत के लिए कितना फायदेमंद है ये सभी जानते हैं. रोज एक ग्लास दूध पीने से कई तरह की स्वास्थ समस्याएं दूर हो जाती हैं और शरीर को बहुत तरह के पोषक तत्व मिल जाते हैं. पर क्या आपको पता है कि दूध से आपके शरीर के कई महत्वपूर्ण अंग खराब हो सकते हैं. जी हां, अगर आप मिलावटी दूध पी रहें हैं तो कुछ सालों में आपको किडनी, लीवर संबंधी परेशानियां आ सकती हैं.

खतरे को समझिए

जानकारों की माने तो लगातार दो सालों तक मिलावटी दूध पीते रहने से इंटेस्टाइन, लीवर या किडनी डैमेज जैसी खतरनाक बीमारियां हो सकती हैं. भारतीय खाद्य संरक्षा एवं मानक प्राधिकरण (FSSAI) के हालिया अध्ययन में इस बात सामने आई है कि भारत में बिकने वाला करीब 10 प्रतिशत दूध हमारे स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है. इस 10 प्रतिशत में 40 प्रतिशत मात्रा पैकेज्ड मिल्क की है जो हर रोज हमारे इस्तेमाल में आते हैं.

आपको बता दें कि जो 10 फीसदी दूध खराब होते हैं वो दूषित होते हैं. इसमें यूरिया, वेजिटेबल औयल, ग्लूकोज और अमोनियम सल्फेट जैसे तत्व मिलाए जाते हैं. ये मिलावट हमारे सेहत के लिए काफी हानिकारक होता है. दूषित या कहें कि कंटामिनेटेड मिल्क से होने वाले नुकसानों पर जानकारों की काफी अलग राय है. जानकारों की माने तो कॉन्टैमिनेटेड दूध से होने वाला नुकसान इस बात पर निर्भर करता है कि कंटामिनेशन कैसा है. अगर दूध में बैक्टीरियल कंटामिनेशन है तो आपको फूड प्वाइजनिंग, पेट दर्द, डायरिया, इंटेस्टाइन इंफेक्शन, टाइफाइड, उल्टी, लूज मोशन जैसे इंफेक्शन होने का डर होता है.

कौन सी परेशानियां हो सकती हैं?

दूध में मिलावट से होने वाली परेशानियों में हाथों में झनझनाहट या जोड़ों में दर्द प्रमुख है. वहीं अगर आपके दूध में केमिकल्स की मिलावट है या पैकिंग संबंधी गड़बड़ियां हैं तो इसका आपकी सेहत पर लंबे समय तक बुरा असर देखने को मिल सकता है. अगर आप दो साल से ज्यादा समय तक इस तरह का दूध पी रहे हैं तो आपको इंटेस्टाइन, लीवर या किडनी डैमेज जैसी खतरनाक बीमारियां हो सकती हैं. वहीं अगर आप करीब 10 साल तक इस मिल्क प्रोडक्ट को ले रहे हैं तो कैंसर जैसी गंभीर बीमारियां होने की संभावना हो सकती है.

Tags:
COMMENT