लेखिका- डा.मेघना पासी

"लाइफ डजंट कम विद मैनुअल, इट कम्स विथ मदर”, हम सभी ने यह कहावत कई बार सुनी होगी. एक मां अपने बच्चों पर अपना सारा प्यार और दुलार न्योछावर करती है और यह सुनिश्चित करने के लिए कड़ी मेहनत करती है कि उन की सभी ज़रूरतें पूरी हों. हालांकि, जब हम बड़े और स्वतंत्र हो जाते हैं, तब कई बार हम यह ध्यान भी नहीं दे पाते हैं कि हमारी मां उम्रदराज हो रही हैं.

Tags:
COMMENT