27वर्षीय अंजलि को प्रैगनैंट होते ही मौर्निंग सिकनैस की समस्या शुरू हो गई, लेकिन उस ने इस पर अधिक ध्यान नहीं दिया, क्योंकि परिवार वालों ने कहा था कि यह आम बात है और 2-3 महीनों में यह समस्या ठीक हो जाती है. मगर अंजलि के साथ ऐसा नहीं हुआ. धीरेधीरे वह कमजोर होती गई. और फिर एक वक्त ऐसा आया कि चलनेफिरने में भी असमर्थ महसूस करने लगी.

Tags:
COMMENT