भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी हेडफोन सहित कुछ अंपायरिंग उपकरणों के इस्तेमाल को लेकर बिल्कुल भी खुश नहीं है. उनका मानना है कि ये अंपायरों को खचाखच भरे स्टेडियम में बल्ले को छूकर निकलने की आवाज सुनने से रोकते हैं. बांग्लादेशी अंपायर एसआईएस सैकत को आशीष नेहरा की गेंद पर बल्लेबाज खुर्रम मंजूर के बल्ले से गेंद छूकर निकलने का पता नहीं चल पाया तथा भारतीय कप्तान इसको लेकर खुश नहीं थे.

Digital Plans
Print + Digital Plans
Tags:
COMMENT