जौब छूट जाने का शादी और कौन्फिडैंस दोनों पर बुरा असर पड़ता है. मगर जौब खोना शादी का अंत नहीं है, बल्कि रिश्ते की मजबूत शुरुआत है. संकट के समय साथी से सलाह करें और हालात को संभालने की कोशिश करें. यही वह वक्त होता है जब आप अपने साथी के और करीब आ सकते हैं और अपने रिश्ते को पहले से भी ज्यादा गहरा कर संकट से बाहर आ कर न सिर्फ अपनी शादी बचा सकते हैं, बल्कि बेहतर नौकरी भी अपने लिए तलाश सकते हैं.

Tags:
COMMENT