कोरोना वायरस का संक्रमण अभी तक कंट्रोल नहीं हुआ है जिसके कारण सभी राज्य लॉकडाउन को 30 अप्रैल तक बढ़ा रहें हैं उसी कड़ी में उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने भी लॉकडाउन को 30 अप्रैल बढ़ा दिया है क्योंकि इस वक्त इसके आलावा और कोई चारा नहीं नज़र आ रहा है इस कोरोना वायरस से बचने का.रविवार को योगी सरकार अपने आवास पर उच्च-स्तरीय बैठक के बाद ये फैसला लिया है.और उत्तर प्रदेश से पहले ओडिशा,महाराष्ट्र और पंजाब ने भी लॉकडाउन को 30 अप्रैल तक बढ़ाने का फैसला लिया है.पीएम मोदी से शनिवार को वीडियो कांफ्रेस के जरिए बात-चीत के बाद योगी सरकार ने बड़ा फैसला लिया है.सबसे बड़ी बात ये है योगी सरकार ने जिलों को दो वर्गों में बांट दिया है जिससे थोड़ी राहत रहेगी उन्होंने ए वर्ग और बी वर्ग बनाया है.

ए वर्ग वो है जहां पर अभी तक कोई भी कोरोना पॉजीटिव नहीं पाया गया है.बी वर्ग में वो  जिलें आएंगे जहां से कोरोना के मरीज पाएं गए हैं.ए वर्ग में कुछ रियायतें दी जाएंगी जैसे कि सब्जी की दूध औऱ किराने के शॉर खुलेंगे.लेकि उसका भी एक टाइम होगा.सुबह सात से दोपहर एक बजे तक लोग अपने वाहन से आ-जा पाएंगे लेकिन बहुत जरूरी काम हो तभी.उसमें भी ए वर्ग और बी वर्ग के बीच कोई वाहन नहीं चलेंगे.साथ ही बी वर्ग बी में पूरी तरह से प्रतिबंध रहेगा.जो हॉटस्पॉट क्षेत्र हैं वहां पूरी तरह से प्रतिबंध रहेग और प्रदेश में कहीं भी पांच लोग से ज्यादा लोगों के खड़े होने पर प्रतिबंध है.धारा 144 लागू रहेगा.साथ ही 31 मई तक आप किसी भी सार्वजनिक स्थान पर बिना मॉस्क के नहीं जा पाएंगे मॉस्क लगाना अनिवार्य है.

आगे की कहानी पढ़ने के लिए सब्सक्राइब करें

डिजिटल

(1 साल)
USD10
सब्सक्राइब करें

डिजिटल + 24 प्रिंट मैगजीन

(1 साल)
USD79
सब्सक्राइब करें
और कहानियां पढ़ने के लिए क्लिक करें...