लेखक-रोहित 

आज पूरा देश दो तरह के संकट से जूझ रहा है. एक, कोरोना संक्रमण जिस ने पुरे विश्व को अपने गिरफ्त में ले कर हजारों की जान ले ली है. वहीँ दूसरा, इस संक्रमण के कारण हुए लाकडाउन से करोडो लोगों के जीवन में हुए भारी आर्थिक नुकसान. हमारे देश के लिए यह दोनों संकट धीरेधीरे पैर पसारना शुरू करने लगे हैं खासकर 21 दिनों के एक लम्बे लाकडाउन से उपजा आर्थिक संकट अभी से अपनी बर्बरता दिखाना शुरू कर चुका है.

Tags:
COMMENT