सरिता विशेष

जब कभी घूमनेफिरने की बात मन में आती है तो किशोरों के मन में यह बात उठने लगती है कि इतने पैसे कहां से आएंगे, मातापिता से भी पैसे मांगना असंभव लगता है और अपनी पौकेट वैसे ही खाली है. ऐसे में कुछ किशोर स्कूलकालेज के टूर पर निर्भर रहते हैं या फिर कुछ घूमनेफिरने का प्रोग्राम ही कैंसिल कर देते हैं, लेकिन बहुत कम किशोर ऐसे होते हैं जो पहले से प्लानिंग कर के पैसों की बचत करते हैं और यह भी जानते हैं कि कैसे कम पैसों में घूमा जा सकता है. जानिए, कैसे पैसे बचा कर ज्यादा ऐंजौय कर सकते हैं आप :

बजट बना कर चलें

अगर आप ने कहीं बाहर दूसरे शहर घूमने जाने का मन बनाया है तो उस के साथसाथ बजट बना कर भी चलें, तभी आप जम कर मस्ती कर पाएंगे. यदि आप 7 फ्रैंड्स ग्रुप में मनाली जा रहे हैं और प्रति व्यक्ति प्रतिदिन के हिसाब से मात्र 100 रुपए ही खर्च कर सकते हैं तो अपने साथ एक डायरी ले कर चलें, जिस से आप को पता रहेगा कि आज पूरे दिन 700 रुपए में ही गुजारा करना है, जिस में खानापीना, रहना, घूमनाफिरना सब शामिल है. जो खर्च होता जाए उसे डायरी में नोट करते जाएं, जिस से आप के सामने सारा हिसाबकिताब रहेगा और जैसे ही बजट बिगड़ने लगेगा आप सचेत हो खुद पर कंट्रोल कर पाएंगे.

होटल लें लो कौस्ट पर

आउटिंग पर जाने का यह मतलब नहीं कि बेहिसाब पैसा खर्च किया जाए बल्कि जितनी चादर हो उतने ही पैर पसारें. ध्यान रखें आप जहां ठहर रहे हैं वह होटल ज्यादा महंगा न हो वरना आप का सारा बजट गड़बड़ा जाएगा और मौजमस्ती करने के बजाय आप एकदूसरे का मुंह ताकते रह जाएंगे. यह बात मन में गांठ बांध लें कि होटल में रुकने का मकसद सिर्फ रात गुजारने के लिए छत का इंतजाम करना है. ऐसे में अगर आप को कम पैसों में बैड की जगह जमीन पर गद्दों पर भी लेटना पड़े तो खुद से समझौता करें और सोचें कि आप के बजट में रहने का बंदोबस्त हो गया है, यही बड़ी बात है. इस बात का भी ध्यान रखें कि एकदम से किसी एक होटल में न ठहरें, बल्कि पहले दोचार होटलों में रेट पता कर लें. हो सकता है कि आप को सस्ते में बढि़या होटल मिल जाए, जिस की आप ने उम्मीद भी न की हो, लेकिन इस के लिए आप को थोड़ा सब्र रखना होगा.

जहां ठहरें वहां खाने की भूल न करें

अकसर हम यही सोचते हैं कि जिस होटल में ठहरे हैं, वहीं सुबह का चायनाश्ता कर लें ताकि इधरउधर आनेजाने का झंझट न रहे. भले ही इस से आनेजाने में लगने वाला समय बच जाएगा, लेकिन आप शायद इस बात से अनजान हैं कि जो चाय आप को बाहर 10 रुपए में आसानी से मिल जाएगी वही चाय होटल वाले 20-25 रुपए में देंगे. यही बात नाश्ते, लंच व डिनर के संदर्भ में भी लागू होती है, जिस से सीधा आप के बजट पर असर पड़ेगा. इसलिए अच्छा रहेगा कि खुद बाहर जा कर चायनाश्ता करें और साथ में मौसम का भी मजा लें.

फुजूलखर्ची से बचें

पहाड़ी स्थानों पर जाएं या फिर कहीं और, वहां नईनई चीजें देख कर उन्हें खरीदने का दिल किस का नहीं करता, लेकिन यह जरूरी नहीं कि जो भी चीज मन को भा जाए उसे खरीदा ही जाए. भले ही आप यह सोचें कि मैं ने तो 30 रुपए की ही चीज खरीदनी है, लेकिन यही छोटीछोटी चीजें खरीदतेखरीदते आप का पूरा बजट बिगड़ जाएगा. इसलिए घर से ही मन बना कर जाएं कि मुझे सिर्फ वहां घूमना है बाकी शोपीस, ऐक्सैसरीज, पापड़, मिठाई वगैरा लेने पर पैसे खर्च नहीं करने, क्योंकि ये सब चीजें तो आप अपने घर आ कर भी खरीद सकते हैं. अगर कोई चीज बहुत सस्ती मिल रही है तो आप उसे 3-4 दोस्तों के साथ मिल कर खरीदें ताकि उस पर और डिस्काउंट मिल जाए.

प्रोफैशनल्स से फोटो न खिंचवाएं

जब कभी हम कहीं घूमने जाते हैं तो अपने साथ स्मार्टफोन व कैमरा ले जाना नहीं भूलते ताकि अपने ट्रिप का हर पल कैमरे में कैद कर पाएं. लेकिन यह भी सच है कि भले ही हमारे हाथ में स्मार्टफोन हो और हम सैल्फी खींचने में भी ऐक्सपर्ट हों, फिर भी हमारा मन एकदो फोटोज प्रोफैशनल्स से खिंचवाने का करता है ताकि फोटो अच्छे आएं. पूरे ग्रुप का फोटो एकसाथ आ पाए और वह सब व्यू भी आ जाए जो हम फोटो में लेना चाहते हैं, लेकिन इस के लिए हमें 50-60 रुपए में एक फोटो खिंचवाना पड़ता है, जो पैसों की बरबादी के सिवा कुछ नहीं है. अगर आप खुद बैस्ट फोटो क्लिक कर सकते हैं तो इस के लिए पैसे बरबाद करना कोई अक्लमंदी नहीं बल्कि आप उन पैसों को घूमनेफिरने में लगाएं.

हर राइड न करें ट्राई

अगर आप पहाड़ी स्थानों पर घूमने गए हैं तो आप को वहां ढेरों राइड करने के मौके मिल जाएंगे, लेकिन हर राइड ट्राई न करें. कोशिश करें दूर से ही चीजों को देख कर ऐंजौय करने की, जिस से मजा भी आए और पैसे भी खर्च न हों.

क्रिएटिविटी दिखाने में न हिचकें

सरिता विशेष

अगर किसी अनजान जगह जा कर अपना हुनर दिखा कर कमाई की जा सके तो इस में शर्म कैसी. यदि आप को मेहंदी वगैरा लगाने का शौक है तो आप जहां घूमने गए हैं उस जगह के सब से भीड़भाड़ वाले इलाके में मेहंदी लगाना शुरू कर दें, लेकिन इस के लिए आप घर से ही सारा बंदोबस्त जैसे मेहंदी की कीप वगैरा साथ ले कर जाएं. यकीन मानिए, देखते ही देखते आप के पास काफी लोगों की भीड़ एकत्रित हो जाएगी जो आप को काफी कमाई करा देगी. इसी तरह यदि आप को गाने का शौक है तो आप अपने दोस्तों के बीच गाना शुरू कर दें. आप की मधुर आवाज सुन कर आसपास के लोग भी वहां एकत्रित हो जाएंगे जिस से लोगों के सामने आप का हुनर आने के साथसाथ आप की कमाई भी हो जाएगी.

ज्यादा खाना और्डर न करें

‘भूख लगी है, भूख लगी है,’ शोर मचा कर अगर हर फ्रैंड अपनी फरमाइश की चीजें और्डर करने लगेगा तो इस से खाना वेस्ट होने के चांसेज तो हैं ही साथ ही पैसों की बरबादी भी होगी. इस से अच्छा है कि आप सब आपस में बात कर के 2-3 डिशेज ऐसी मंगवा लें जो सब को पसंद हों. अगर न भी पसंद हों तब भी उन्हें अपनी पसंद बनाने की कोशिश करें और साथ ही ऐसी चीजें मंगवाने की भी कोशिश करें जो लो प्राइज में होने के साथसाथ वहां की स्पैशल हों.

जेब देखें, स्वाद नहीं

अकसर टीनएजर्स के मन में कुछ नया ट्राई करने की इच्छा रहती है और इसी के चलते जब भी वे कहीं बाहर घूमने जाते हैं तो वहां लोगों से पूछते हैं कि यहां फेमस क्या चीज है. अगर किसी ने उन्हें बता दिया कि यहां से 20 किलोमीटर दूर एक रैस्टोरैंट है जहां का खाना बहुत बढि़या होता है तो फिर तो वे खुद को रोक नहीं पाते और किराया लगा कर वहां पहुंच जाते हैं. भले ही उन्हें इस के लिए ऐक्स्ट्रा पैसे खर्च करने पड़ें. लेकिन अगर वे जहां ठहरे हुए हैं वहीं आसपास खाना वगैरा खा लें तो उन के काफी पैसे बच सकते हैं. इस तरह आप पैसों की काफी बचत कर पाएंगे.