रोनित और उस के दोस्त इस वीकैंड स्कूल की छुट्टियां कुछ खास अंदाज में बिताना चाहते थे. सब के अपनेअपने सजैशन थे. कोई वाटर पार्क में जम कर मस्ती करना चाहता था तो कोई फिल्म ‘द जंगल बुक’ को 3डी में ऐंजौय करना चाहता था. लेकिन रोनित ने पहले से ही शर्त रखी थी कि इस बार की छुट्टियां हम लोग अपनी पौकेट मनी से प्लान करेंगे सो वाटर पार्क और मूवी का परहैड खर्च 500 से 1000 के बीच आने के चलते सब को पौकेट मनी कम लगने लगी. सब इसी उलझन में थे कि 100 रुपए प्रतिदिन में कोई अच्छी जगह भला कैसे घूम सकते हैं.

Tags:
COMMENT