सरिता विशेष

बौलीवुड में भले ही तापसी पन्नू कुछ खास सफलता न बटोर पा रही हों, मगर दक्षिण भारतीय फिल्मों में उनकी बड़ी मांग है. तापसी पन्नू की खासियत है कि वह अपने किरदार के साथ न्याय करने के लिए अपनी तरफ से पूरा होमवर्क और तैयारी करने के साथ साथ काफी मेहनत करती हैं. इन दिनों वह हिंदी, तेलगू व तमिल इन तीन भाषाओं में बन रही 1971 युद्ध के समय विशाखापट्टनम के पास डूबे पाकिस्तानी जलयान ‘‘पीएनएस गाजी” की अनकही कहानी और भारतीय जल सेना यानी कि नेवी पर आधारित फिल्म ‘‘गाजी’’ में रिफ्यूजी का किरदार निभा रही हैं. जिस पर काफी जुल्म हो चुका है. अब इस किरदार के लिए उन्हे दुबला पतला नजर आना है. इसलिए तापसी पन्नू इन दिनों अपना वजन कम करने में लगी हुई हैं. खुद तापसी कहती हैं-‘‘फिल्म में मेरा किरदार एक ऐसी लड़की का है,जो कि रिफ्यूजी है,जिस पर काफी जुल्म ढाया जा चुका है. इसलिए में अपना वजन कम कर रही हूं. इसके लिए अब मुझे सख्त डाइट का पालन करना पड़ रहा है.’’

सर्व विदित है 1971 के भारत पाक युद्ध के दौरान विशाखापट्टनम के पास पाकिस्तानी जलयान ‘‘पी एन एस गाजी’ ’डूबा था. पर उस वक्त भारतीय जलसेना यानी कि नेवी और इस जहाज पर सवार पाकिस्तानियों के बीच क्या हुआ था, इसका सच किसी को पता नहीं है. क्योंकि इस मसले से जुड़ी सभी फाइलें क्लासीफाइड हैं. उस जलयन की अनकही कहानी को अब तीन भाषाओं की फिल्म ‘‘गाजी’’ में लेकर आ रहे हैं फिल्मकार संकल्प.इस फिल्म में तापसी पन्नू के साथ राणा डग्गूबटी भी अभिनय कर रहे हैं.

सूत्र बताते हैं कि इस फिल्म के निर्देशक संकल्प और अभिनेता राणा डग्गूबटी ने एक साथ इस विषय पर रिसर्च किया है. फिल्म में तापसी पन्नू रिफ्यूजी है, तो वहीं राणा डग्गूबटी नेवल कमांडर की भूमिका में हैं. इस फिल्म का खास सेट हैदराबाद में लगाकर इसे फिल्माया जा रहा है. यह भारत की पहली जलयान आधारित युद्ध फिल्म होगी.