सरिता विशेष

अमूमन देखा गया है कि हर कलाकार अपनी बेहतरीन परफार्मेंस या किसी खास किरदार के मिलने पर फिल्म के निर्देशक या अपने सह कलाकार की तारीफ करते हुए नजर आता है. लेकिन फिल्म ‘सरबजीत’ में सरबजीत की शीर्ष भूमिका निभाकर शोहरत बटोर रहे अभिनेता रणदीप हुड्डा इन दिनों अपनी दस जून को रिलीज होने वाली फिल्म ‘‘दो लफ्जों की कहानी’ के निर्देशक दीपक तिजोरी की बजाय फिल्म के निर्माता के अविनाश राय का शुक्रिया अदा करते हुए नजर आ रहे हैं. हाल ही में ‘‘सरिता’’ पत्रिका की रणदीप हुड्डा से खास मुलाकात हुई. इस मुलाकात में बातचीत करते हुए रणदीप हुड्डा ने कबूल किया कि उन्होने जितनी मेहनत फिल्म ‘‘सरबजीत’’ के लिए की थी, उससे कई गुना ज्यादा मेहनत उन्होने फिल्म ‘‘दो लफ्जों की कहानी’’ में बाक्सर का किरदार निभाते हुए की. उन्होने छह माह तक सुबह और शाम दोनों वक्त दो दो घंटे की कठिन ट्रेनिंग ली. उनका दावा है कि इस ट्रेनिंग के दौरान फिल्म के निर्माता अविनाश राय भी उनके साथ मेहनत करते थे.

इसी बातचीत के दौरान जब हमने रणदीप हुड्डा से पूछा कि हर कलाकार अपनी फिल्म के निर्देशक की तारीफें करता नजर आता है, पर वह पहले अभिनेता हैं, जो कि फिल्म ‘दो लफ्जों की कहानी’ के निर्माता अविनाश राय की तारीफ कर रहा है. हमारे इस सवाल पर रणदीप हुड्डा ने कहा-‘‘मैं अपने निर्माता अविनाश राय का शुक्रगुजार हूं, जिन्होंने मेरे साथ सुबह शाम ट्रेनिंग के दौरान मेरा साथ दिया. ऐसा बहुत कम होता है, जब कोई निर्माता अपने कलाकार द्वारा की जा रही मेहनत का सहभागी बनता है.’’