बौलीवुड में हर शुक्रवार किस्मत बदलती है. शुक्रवार को यदि फिल्म ने बाक्स आफिस पर दम तोड़ दिया, तो फिल्म से जुड़े कलाकारों के साथ साथ फिल्म के निर्देशक को लंबी सजा भुगतनी पड़ जाती है. सूत्रों की माने तो फिल्मकार निखिल आडवाणी भी दो तीन सप्ताह के अंतराल में रिलीज हुई दो फिल्मों ‘हीरो’ और ‘‘कट्टी बट्टी’’ की असफलता की सजा भुगत रहे हैं. सूत्रों की माने तो इन दिनों निखिल आडवाणी की समझ में नहीं आ रहा है कि अब वह क्या करें?

सूत्रों के अनुसार निखिल आडवाणी हृतिक रोशन को लेकर फिल्म ‘बाजार’ बनाना चाहते थे. पर ‘हीरो’ और ‘कट्टी बट्टी’ की असफलता के बाद हृतिक रोशन ने अपने कदम पीछे खींच लिए. तब निखिल आडवाणी इस पटकथा को लेकर अक्षय कुमार के पास पहुंचे. सूत्र बताते हैं कि अक्षय कुमार के साथ पैसे का ऐसा पंगा फंसा कि फिल्म शुरू नहीं हो पायी.

इतना ही नहीं निखिल आडवाणी, कंगना रानौट के साथ एक सीरियल किलर पर फिल्म बनाना चाहते थे, पर यह फिल्म भी डिब्बे में पहुंच चुकी है. हर तरफ से निराश निखिल आडवाणी ने ‘जील’ के ‘जील फार यूनिटी’ मुहिम के तहत फिल्म ‘‘गुड्डू इंजीनियर’’ बनायी. उन्हे उम्मीद थी कि इससे उनके करियर को फायदा हो जाएगा, पर यह फिल्म कब रिलीज होगी, यह तय नहीं है. सूत्र बताते हैं कि अब निखिल आडवाणी अपनी फिल्म ‘बाजार’ के लिए सैफ अली और संजय दत्त दोनों से बात कर रहे . पर अभी तक कोई बात बनती नजर नहीं आ रही है.