सरिता विशेष

घर की मालकिन के लिए अपने आशियाने की साफसफाई रखना सब से बड़ी चुनौती होती है. शीला की भी यह समस्या है. अपने घर को चमचमाता बनाए रखने के लिए उन्होंने कामवाली बाई भी रखी हुई है जो ईमानदारी से अपना काम करती है पर ऊपरी तौर पर क्योंकि शीला के घर में पनप रहे गंदे कीटाणुओं से कोई न कोई बीमार ही रहता है.

अब इन कीटाणुओं से कैसे निबटा जाए और ये घर के किस कोने में अपनी बस्ती बसा कर रहते हैं, यह जानना भी जरूरी?है.

आमतौर पर रसोईघर में इस्तेमाल की जाने वाली चीजों जैसे चाकू, तौलिया, सिंक, कूड़ेदान, दरवाजे के हैंडल, नल, बरतनों के स्टैंड वगैरह में कीटाणुओं के बसने का सब से?ज्यादा डर रहता है.

इस के अलावा जब घर के सदस्य बाहर से आते हैं, खासकर जब बच्चे खेलकूद कर गंदे हो कर घर में दाखिल होते हैं, तब वे भी कीटाणु रूपी अनचाहे मेहमान साथ ले आते?हैं. उन्हें तो नहलाधुला कर कीटाणुओं से?छुटकारा दिला दिया जाता?है, लेकिन घर में पल रहे बीमारी के वाहक कीटाणुओं की अनदेखी कर दी जाती है.

घर का फर्श, बाथरूम और?टौयलैट भी कीटाणुओं का बसेरा होते?हैं. तो इन का इलाज क्या?है? इलाज है और बहुत आसान है. कीटाणुओं से छुटकारा पाने के लिए इन बातों का ध्यान रखना चाहिए:

* गंदे कपड़ों को?ज्यादा लंबे समय तक यहांवहां न फैला रहने दें. रोजाना नहीं तो कम से कम एक दिन छोड़ कर उन्हें धो देना चाहिए. जो वाशिंग मशीन आप के कपड़े धोती?है, उसे भी समयसमय पर साफ करते रहना चाहिए. इस के लिए उस में थोड़ा ब्लीचिंग पाउडर डाल कर यों ही चलता छोड़ दें. इस से मशीन के कीटाणु मर जाएंगे.

* गंदे तौलिए को तो अच्छे से डिटर्जैंट से गरम पानी में?धोना चाहिए.

* बिस्तर की चादरें ज्यादा दिनों तक न बिछाएं रखें.

* बिस्तर पर बैठ कर खाने की आदत से बचें.

* फर्श पर पोंछा लगाते समय अच्छी क्वालिटी का फर्श क्लीनर या तेजाब वगैरह मिला दें.

* बाथरूम और टौयलैट को भी अच्छी तरह चमकाएं. इस के लिए बाजार से मिलने वाले खुशबूदार फर्श क्लीनर का भी इस्तेमाल कर सकते हैं. इन्हें गीला न रखें क्योंकि नमी वाली जगह पर काई, फफूंदी के अलावा कीटाणु पनपने का खतरा बना रहता?है. अगर टाइलें लगी?हैं तो उन्हें भी क्लीनर से साफ करें.

* रसोई की सफाई करना न भूलें. जूठे बरतन ज्यादा देर तक न रहने दें.

* कूड़ेदान को गंदा न रहने दें. सिंक और नाली के आसपास कीटनाशक घोल का छिड़काव करें.

* बैडरूम और ड्राइंगरूम में भी तमाम तरह के बैक्टीरिया होते हैं. समयसमय पर सोफासैट, परदों, टैलीविजन के रिमोट वगैरह की अच्छी तरह से साफसफाई करनी चाहिए.