राजवीर की नईनई शादी हुई थी. रात होतेहोते मिलन की घड़ी भी आ गई. राजवीर ने जैसे ही खुशबूदार गुलाबों की सेज से महकते बिस्तर पर इंतजार कर रही रजनी के करीब जा कर कपड़े उतारे तो रजनी ने अचानक से नाक पर हाथ रख दिया और मुंह सिकोड़ते हुए बिस्तर से उठ खड़ी हुई.

Digital Plans
Print + Digital Plans
COMMENT