हर दिन समाचारपत्रों और टीवी पर यही खबर देखनेपढ़ने को मिलती है कि फलां जगह युवती के साथ सामूहिक बलात्कार हुआ या फिर अपने ही जानकार ने मुंह काला किया… युवतियों के साथ हो रही यौन हिंसा और तेजाब फेंक कर उन्हें घायल करने की बढ़ती घटनाओं ने युवतियों में असुरक्षा की भावना पैदा कर दी है. लेकिन युवतियों को इन वारदातों से डरने के बजाय सतर्क रहने व ऐसी घटनाओं के खिलाफ ऐक्शन लेने की जरूरत है. इस संबंध में पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी से बातचीत की गई और उन्होंने कुछ ऐसी बातें बताईं जिन पर अमल कर के हम खुद ऐसी परेशानियों का सामना बोल्डली कर सकते हैं जैसे :

चुप न रहें

–       यदि कोई व्यक्ति आप को परेशान कर रहा है तो इस की शिकायत तुरंत अपने पेरैंट्स या टीचर्स से करें. मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस को भी सूचित करें.

कुछ खास ऐप्स भी काफी फायदेमंद

दामिनी : यह एक खास ऐप है जिसे चालू करते ही मोबाइल का कैमरा अपनेआप वीडियो बनाने लगता है. साथ ही मैसेज के साथसाथ वीडियो लिंक्स भी भेजता है.

आई फौलो : यह भी खास ऐप है जो मोबाइल को हिलाने पर आप की ‘हैल्प मी’ कौल 3 लोगों को एकसाथ भेजता है.

निम्न सावधानियां बरतना जरूरी :

–       अनजान लोगों पर भरोसा न करें.

–       जब भी अकेली हों तब अधिक  सतर्कता बरतें.

–       रात के समय अकेली कहीं न जाएं, ग्रुप में ही बाहर निकलें.

–       अनजाने या सुनसान रास्ते पर दिन में भी न जाएं.

–       आप कहां जा रही हैं इस की जानकारी घर के किसी सदस्य को अवश्य दें.

–       अनावश्यक रूप से किसी से बहस न करें.

–       सड़क पर चलते समय हैडफोन का इस्तेमाल न करें.

यदि अकेली रहती हैं तो…

कभीकभी नौकरी या पढ़ाई के कारण किसी शहर में जा कर वहां अकेले रहना मजबूरी बन जाती है. वहां आप या तो पीजी में रहती हैं या फिर किराए पर कमरा ले कर रहती हैं. ऐसी स्थिति में सतर्क रहने के साथसाथ निम्न बातों का भी ध्यान रखें :

–       जिस सोसायटी मेंआप बतौर किराएदार रह रही हैं वहां के सिक्योरिटी गार्ड के बारे में अच्छे से जानकारी ले लें.

–       कीहोल से देख कर ही दरवाजा खोलें.

–       किसी भी अनजान व्यक्ति को घर के भीतर न आने दें.

– अपनों से मधुर संबंध रखें ताकि आवश्यकता पड़ने पर वे आप के काम आ सकें.

–       रात को देर से घर लौटने की आदत से बचें