दस नवंबर को प्रदर्शित होने जा रही विनोद बच्चन निर्मित और रत्ना सिन्हा निर्देर्शित फिल्म ‘‘शादी में जरुर आना’’ की काफी चर्चाएं हो रही हैं. इस फिल्म में राज कुमार राव के साथ कृति खरबंदा की जोड़ी को ट्रेलर आने के बाद से काफी पसंद किया जा रहा है.

मगर सच यह है कि इस फिल्म को छोटी फिल्म बताकर बड़ी फिल्म ‘जुड़वा 2’ करने के लिए तापसी पन्नू ने छोड़ दिया था, उसके बाद औडीशन द्वारा कृति खरबंदा को यह फिल्म मिली थी. अब फिल्म के प्रदर्शन के बाद तापसी पन्नू गम मनाएंगी या खुशी, यह तो दस नवंबर के बाद ही पता चलेगा. मगर तापसी इस मसले पर चुप हैं.

उधर कृति खरबंदा का दावा है कि इस फिल्म के लिए वह पहली पसंद थीं. इसके लिए उन्होंने औडीशन भी दिया था.

जबकि देशी सिनेमा को अहमियत देने वाले व फिल्म ‘‘शादी में जरुर आना’’ के निर्माता विनोद बच्चन कहते हैं-‘‘-रत्ना सिंन्हा ने पहले ही राज कुमार राव को कहानी सुना रखी थी. वह फिल्म करने के लिए तैयार थे.

कहानी सुनकर मुझे लगा कि सत्तू के किरदार के लिए राज कुमार राव एकदम परफैक्ट हैं. पर हमने हीरोईन के रूप में तापसी पन्नू को साइन किया था. मगर हमारी फिल्म की शूटिंग की तारीखों के साथ उनकी दूसरी फिल्म ‘जुड़वा 2’ को दी गयी तारीखों का टकराव हो रहा था.

तो तापसी ने खुद ही अलग होने की इच्छा जाहिर की. तापसी ने कहा कि ‘जुड़वा 2’ बड़ी फिल्म है और मैं अपने करियर के इस मोड़ पर बड़ी फिल्म को प्राथमिकता देना चाहती हूं. तब हमने नई अभिनेत्री के लिए औडीशन लेना शुरू किया. काफी लड़कियों के औडीशन लेने के बाद हमने कृति खरबंदा को चुना.’’

Tags: