समय के साथ बहुत कुछ बदलता रहा है. समाज व सिनेमा भी बदला. एक वक्त वह था जब कोई भी युवक अभिनय के क्षेत्र में अपनी किस्मत आजमाने लगता था. पर अब ऐसा नही है. अब हर कलाकार बौलीवुड का हिस्सा बनने से पहले काफी तैयारियां करके आता है. वह देश विदेश से अभिनय का प्रशिक्षण लेता है. सिनेमा इन दिनों बौलीवुड में हर कलाकार अभिनय का प्रशिक्षण लेकर ही आ रहा है. नवाजुद्दीन सिद्दिकी ने भी अभिनय से जुड़ने से पहले ‘राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय’से प्रशिक्षण लिया था. उनकी राय में अभिनय का प्रशिक्षण वर्तमान समय में हर कलाकार के लिए बहुत मददगार साबित होती है..

‘आइफा अवार्डस’’ में फिल्म ‘‘मौम’’ के लिए बेस्ट सर्पोटिंग एक्टर के अवार्ड से नवाजे जाने के बाद एक खास मुलाकात के दौरान अभिनय प्रशिक्षण की चर्चा चलने पर नवाजुद्दीन सिद्दिकी ने कहा-‘‘मुझे राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय में अभिनय को लेकर शून्य से पूरी जानकारी दी गयी. वहां पर विश्व साहित्य के साथ साथ अभिनय के हर पक्ष और थिएटर का प्रशिक्षण मिला. हम तरह तरह की फिल्में देखते हैं, उन पर बहस करते हैं. इस तरह हम फिल्म निर्माण के तमाम पक्षों को सीखते हैं. मेरी राय में जिस क्षेत्र में आप काम करना चाहते हैं, उसकी जानकारी हासिल करना, उसका प्रशिक्षण हासिल करना सदैव लाभदायक सिद्ध होता है.’’

वह आगे कहते हैं- ‘‘देखिए, वक्त व सिनेमा काफी बदल चुका है. अब सेट पर ट्रेनिंग देने वाला मसला नहीं रहा. अब सिर्फ चेहरे की खूबसूरती के आधार पर आपको फिल्मों में अभिनय करने का मौका नहीं मिल सकता. एक वक्त वह था, जब चाकलेटी चेहरे वाले कलाकार को फिल्में मिल जाती थीं, पर अब ऐसा संभव नहीं है. इसलिए जरूरी है कि यदि आपको अभिनय करना है, तो पूरी तरह प्रशिक्षित होकर ही अपनी किस्मत आजमाएं. मेरी राय में अभिनय का प्रशिक्षण कलाकार को हर मायने में मदद करता है.’’

Tags: