सरिता विशेष

बहुत पुरानी कहावत है कि सफलता को पचाना हर किसी के बस की बात नहीं होती है. 14-16 सालों के लंबे संघर्ष के बाद जैसे ही नवाजुद्दीन सिद्दिकी को सफलता मिली, वैसे ही वह लगातार विवादों में घिरने लगें. सूत्रों की मानें तो सफलता के नशे में चूर नवाजुद्दीन सिद्दकी ने अपने इर्द गिर्द पीआर मैनेजर और बिजनेस मैनेजर की एक लंबी चौड़ी फौज खड़ी कर ली है. रातों रात सबसे बड़े महान और सबसे अमीर कलाकार बनने की होड़ के लिए वह ऐसे कदम उठाते जा रहे हैं कि उनका पारिवारिक जीवन भी तहस नहस हो रहा है. इतना ही नहीं अब वह पत्रकारों से मिलने की बजाय सोशल मीडिया के माध्यम से अपनी सफाई पेश करने में ही समय बिताने लगे हैं. लगभग 2 वर्ष पहले उनके भाई की पत्नी ने उन पर व उनके भाई पर कई तरह के आरोप लगाए थे. उसके बाद कुछ माह पहले अपनी आत्मकथा को लेकर नावाजुद्दीन सिद्दकी इस तरह विवादों में आए कि अंततः उन्हें अपनी आत्मकथा की किताब को बाजार में ना लाने का ऐलान ट्वीटर पर करना पड़ा. अब तो वह सोशल मीडिया पर पत्रकारों को गलत ठहराने का काम करने लगे हैं.

bollywood

पिछले चार पांच दिनों से नवाजुद्दीन सिद्दिकी नए विवादों में घिरे हुए हैं. वास्तव में मुंबई से सटे ठाणे जिले की पुलिस ने एक ऐसे गिरोह का भंडाफोड़ किया है, जो कि गलत तरीके से दूसरे लोगों के फोन रिकौर्डस उपलब्ध करा रहे थे. इस गिरोह के ग्यारह लोगों के साथ साथ प्रायवेट डिटेक्टिव रजनी पंडित की गिरफ्तारी के बाद ठाणे पुलिस ने नवाजुद्दीन सिद्दीकी को अपनी पत्नी अंजली उर्फ आलिया सिद्दकी की जासूसी के आरोप में पूछताछ के लिए सम्मन भेजा, पर अब तक नवाजुद्दीन सिद्दकी पुलिस के समक्ष हाजिर नहीं हुए. मजेदार बात यह है कि नवाजुद्दीन सिद्दकी ने पुलिस के पास खुद जाने की बजाय अपनी पत्नी को भेज कर कहलवाया कि उनके व उनकी पत्नी के बीच सब कुछ सही चल रहा है.

उसके बाद जब पत्रकारों ने नवाजुद्दीन सिद्दकी से बात करनी चाही, तो नवाजुद्दीन सिद्दकी ने कहा कि, ‘यह कुछ पत्रकारों की मनगढंत कहानी है. मुझे पुलिस की तरफ से कोई बुलावा नहीं आया. उसके बाद सुबह सुबह नवाजुद्दीन सिद्दकी ने ट्वीटर पर अपनी सफाई पेश करते हुए लिखा -‘‘कल शाम मैं घर पर अपनी बेटी की उसके स्कूल प्रोजेक्ट हाइड्रोइलेक्ट्रिक पावर जनरेटर की तैयारी करवाता रहा और आज सुबह जब मैं उसे लेकर स्कूल पहुंचा, तो वहां मीडिया मुझसे बेवजह के आरोप को लेकर सवाल कर रही थी. डिस्गस्ट..’’

bollywood

ट्वीटर पर नवाजुद्दीन के इस ट्वीट के बाद लोगों ने यकीन कर लिया कि नवाजुद्दीन सच बोल रहे होंगे. लेकिन जब एक अंग्रेजी वेबसाइट ने पुलिस इंस्पेक्टर नितिन ठाकरे से बात की, तो नवाजुद्दीन का सारा झूठ सामने आ गया.

पुलिस इंस्पेक्टर नितिन ठाकरे ने कहा- ‘‘नवाजुद्दीन सिद्दकी और उनकी पत्नी के बीच कुछ भी ठीक नहीं चल रहा है. हमने नवाज को पूछताछ के लिए बुलाया था, पर वह आए नहीं. उन्होंने अपने किसी प्रतिनिधि को भेज कर कहलवाया कि पति पत्नी के बीच समझौता हो गया है. वास्तव में सीडीआर (कौमपेक्ट डिस्क रिकौर्डेबल) सही अधिकारी के मार्फत आप ले सकते हैं. लेकिन उसके लिए आपको एक उच्च अधिकारी से इजाजत लेनी होती है. हमारी जानकारी के अनुसार यह अकाउंट हमारे विभाग के एक कौंस्टेबल के हाथ में था. उसने गलत तरीके से पैसे लेकर श्रीमती सिद्दकी के फोन की सारी कौल डिटेल नवाजुद्दीन को उपयुक्त करायी. हमने उस कांस्टेबल के अलावा मशहूर प्राइवेट डिटेक्टिव रजनी पंडित को भी गिरफ्तार किया है. एअरटेल हो या वोडाफोन सभी मोबाइल कंपनियों को किसी भी इंसान की पूरी कौल डिटेल देना अनिवार्य है, बशर्ते इसकी मांग सक्षम अधिकारी द्वारा की जाए.’’

पुलिस इंस्पेक्टर नितिन ठाकरे की बातों से साफ जाहिर होता है कि नवाजुद्दीन कितना झूठ बोल रहे हैं? अफसोस की बात यह है कि सोशल मीडिया पर अपनी सफाई देते समय नवाजुद्दीन सिद्दिकी ने अपनी बेटी को भी इस विवाद का हिस्सा बना लिया, जो कि गलत है. उन्हें ऐसा नहीं करना चाहिए. बौलीवुड से जुड़े सूत्र कहते हैं- ‘‘पति पत्नी के झगडे़ और पुलिस के मामले में नाबालिग बेटी को एक समझदार पिता दूर ही रखता है ना कि उसे ढाल बनाकर उपयोग करता है.’’

sarita magazine

मजेदार बात यह है कि पुलिस इंस्पेक्टर नितिन ठाकरे दावा करते है कि नवाजुद्दीन के वकील रिजवान सिद्दकी ने कबूल किया है कि नवाजुद्दीन ने उनके माध्यम से अपनी पत्नी के फोन की सारी जानकारी लेकर अपनी पत्नी की जासूसी करायी. लेकिन खुद नवाजुद्दीन सिद्दकी पुलिस की जांच में सहयोग नहीं दे रहे हैं. पुलिस ने उन्हें पुनः सम्मन भेजा है और उन्हें आना भी पड़ेगा.

नितिन ठाकरे ने कहा है-‘‘ फिलहाल हम उनकी पत्नी से कोई पूछताछ नहीं कर रहे हैं, पर जरूरत पड़ी, तो हम उन्हें भी पूछताछ के लिए बुला सकते हैं. फिलहाल इस पूरे मसले में हम 11 लोगों की गिरफ्तारी कर चुके हैं. जांच चल रही है. नवाजुद्दीन से अभी तक पूछताछ नहीं हो पायी है. आगे क्या होगा? क्या पता? पर क्राइम ब्रांच ने जिन 11 लोगों को गिरफ्तार किया है, वह लोगों से 30000 से 50000 रूपए लेकर गैर कानूनी तरीके से लोगों के फोन कौल की जानकारी दे रहे थे.

bollywood

इधर नवाजुद्दीन सिद्दिकी पुलिस के पास नहीं पहुंचे. लेकिन उनकी पत्नी अंजली उर्फ आलिया सिद्दिकी ने फेसबुक पर अपनी बात कहते हुए नवाजुद्दीन सिद्दकी को बचाने की कोशिश की. अंजली ने फेसबुक पर लिखा है- ‘‘दो दिन से मीडिया में जो खबरें चल रही हैं, उससे मैं खुद हैरान हूं. पिछले कुछ समय से मेरे व नवाज को लेकर कई तरह की खबरें आती रही हैं. जिसमें तलाक से लेकर साथ में न रहने की खबरे रही हैं…लेकिन कल से जो खबरें आ रही हैं, वह मेरे व नवाज दोनों के लिए धक्कादाक है…मेरा व नवाज का रिश्ता 15 साल पुराना है. नवाज को शिकार बनाया गया है, क्योंकि वह एक सेलीब्रिटी हैं….हम दोनों का धर्म अलग है. मैं हिंदू ब्राह्मण परिवार से हूं और वह मुसलमान हैं, पर नवाज ने मुझे कभी भी अलग धर्म के होने का अहसास नहीं दिया ना ही अपने धर्म को मुझ पर थोपा. वह जितना अपने धर्म को मानते हैं उसकी इज्जत करते हैं उतना ही मेरे धर्म को भी मानते हैं और उसकी इज्जत करते हैं’’

फेसबुक पर अपनी बातें लिखते समय आलिया उर्फ अंजली सिद्दिकी यह भूल गयीं कि मीडिया या पुलिस बेवजह किसी सेलीब्रिटी के पीछे नहीं पड़ती. बौलीवुड का एक तबका अपने पति को बचाने के लिए आलिया द्वारा अपनाए गए इस तरीके को बहुत ही घटिया मान रहा है.

सबसे बड़ी बात यह है कि इस सारे विवाद पर अंजली सिद्दिकी को फेसबुक पर जाकर यह सब बकवास करने की जरूरत क्यों पड़ी? भले ही यह बातें अंजली सिद्दिकी के फेसबुक एकाउंट में लिखी गयी हों, पर सवाल उठने लगे हैं कि उन पर दबाव डालकर ऐसा करवाया गया. इतना ही नहीं सबसे बड़ा सवाल यह भी उठ रहा है कि यदि नवाजुद्दीन सिद्दिकी पाक साफ हैं, तो वह पुलिस जांच में सहयोग देने की बजाय भाग क्यों रहे हैं और अपनी सफाई को सोशल मीडिया पर क्यों दे रहे हैं.

बहरहाल, नवाजुद्दीन सिद्दकी लगातार विवादों में फंसते जा रहे हैं. इसकी परिणति क्या होगी, यह तो पुलिस जांच के बाद ही पता चलेगा.

VIDEO : ये हेयरस्टाइल आपके लुक में लगा देगी चार चांद 

ऐसे ही वीडियो देखने के लिए यहां क्लिक कर SUBSCRIBE करें गृहशोभा का YouTube चैनल.