'मानस' शब्द के प्रतिध्वनित होते ही वंदना ने निगाहें उठा कर सामने बैठे शख्स को देखा. बेतरतीब दाढ़ी और हलकी घनी मूंछों ने सामने वाले के चेहरे को काफी ढक रखा था.
अनलिमिटेड कहानियां आर्टिकल पढ़ने के लिए आज ही सब्सक्राइब करेंSubscribe Now