भारत के नामचीन मुक्केबाज मनोज कुमार ने जब दिल्ली प्रैस को अपना पहला इंटरव्यू दिया था तब वे सरकार से ‘अर्जुन अवार्ड’ पाने के सिलसिले में अदालत का रुख कर चुके थे. बाद में वे इस लड़ाई में जीते भी थे और तब जजों ने इस बात पर अफसोस जताया था कि किसी खिलाड़ी को सरकारी सम्मान पाने के लिए इस तरह से अदालत की शरण लेनी पड़ी.

तब ओलंपियन मुक्केबाज मनोज कुमार ने कहा था कि अपने हक को पाने के लिए वे किसी भी हद तक जा सकते हैं. फिलहाल मनोज कुमार अपने खेल की वजह से सुर्खियों में नहीं हैं बल्कि अब वे मुक्केबाजी के घेरे से निकल कर शादी के बंधन में बंधने वाले हैं.

11 अक्टूबर, 2108 को वे हरियाणा के जिले कुरुक्षेत्र के एक गांव मथाना की नेहा के साथ परिणय सूत्र में बंधेंगे. नेहा के घर और मनोज के आवास पर इस शादी की तैयारियां जोरों से चल रही हैं.

मनोज कुमार के साथ वैवाहिक बंधन में बंधने वाली नेहा एक साधारण परिवार की लड़की हैं. उन्हें छोटे बच्चों को पढ़ाने में दिलचस्पी है और यही वजह है कि उन्होंने जेबीटी की पढ़ाई की है. इस के अलावा वे पोस्ट ग्रेजुएशन की डिग्री भी हासिल कर चुकी हैं.

मनोज कुमार से जब उन की भावी जीवनसाथी के बारे में पूछा गया तो उन्होंने बताया कि शादी के लिए उन्हें सुशील, सादगी से भरी व गुणवान लड़की चाहिए थी, इसलिए उन के परिवार ने नेहा को चुना. नेहा की सब से बड़ी खासीयत यह है कि वे हमेशा गरीब बच्चों को शिक्षित करने के लिए तत्पर रहती हैं.

जब मनोज कुमार से टेलीफोन पर बात की गई तो उन्होंने बताया, “मेरे घर वालों ने नेहा को पसंद किया है. उन के और मेरे परिवार के संस्कार एक जैसे हैं. मुझे उम्मीद है कि उन का यह फैसला मेरी पूरी जिंदगी के लिए सही रहेगा.

“जब कोई इंसान बड़ा हो जाता है तो वह किसी बड़े परिवार में ही रिश्ता जोड़ना चाहता है. पर मेरे लिए बड़े परिवार से ज्यादा अहम है संस्कारी परिवार, क्योंकि मैं खुद एक संस्कारी परिवार से ताल्लुक रखता हूं. मैं तो नेहा से एक बार भी नहीं मिला हूं. फोन बात हुई थी बस थोड़ी देर के लिए.”

विवाह के 2 दिन बाद यानी 13 अक्टूबर, 2108 को रिसेप्शन पार्टी होगी. मनोज कुमार के आदर्श, कोच और बड़े भाई राजेश कुमार ने बताया कि इस वैवाहिक समारोह में मुख्य रूप से राज्यसभा सदस्य व पद्मश्री मुक्केबाज एमसी मैरी कौम,  विजेंदर सिंह, अमित पंघाल, सतीश यादव, पहलवानों में सुशील कुमार, योगेश्वर दत्त, बजरंग पूनिया, मौसम खत्री, विनेश फोगाट, एथलीट नीरज चोपड़ा,  द्रोणाचार्य अवार्डी मुक्केबाज कोच गुरबक्श सिंह संधू, फिल्म कलाकार बिंदु दारा सिंह, प्रवीण डबास, संग्राम सिंह, द ग्रेट खली, राजा चौधरी, आशुतोष राणा सहित कई अन्य जानीमानी हस्तियां नवविवाहित जोड़े को आशीर्वाद देने पहुंचेंगी.

अपने छोटे भाई के इस गठबंधन से खुश बड़े भाई राजेश कुमार ने बताया कि मनोज को खीर सब से ज्यादा पसंद है इसलिए शादी में उस की पसंदीदा खीर जरूर बनाई जाएगी.

मनोज कुमार की होने वाली जीवन संगिनी नेहा के पिता पृथ्वी सिंह शुगर मिल करनाल से रिटायर हो चुके हैं और अब खेतीबारी का काम भी करते हैं. उन का बेटा वीरेंद्र हरियाणा पुलिस में है.

हरियाणा के मुक्‍केबाजों में मनोज एक चमकते हुए सितारे हैं. साल 2010 में वे दिल्ली कामनवेल्थ गेम्स में गोल्ड जीते चुके हैं. साल 2018 के गोल्ड कॉस्ट के कॉमनवेल्थ गेम्स में उन्होंने ब्रांज मेडल जीता था. 2007 में मंगोलिया में हुई  मुक्केबाजी की एशियन चैंपियनशिप में ब्रांज मेडल अपने नाम किया था. 2013 जॉर्डन में हुई एशियन चैंपियनशिप में ब्रांज मेडल, साउथ एशियन गेम्स 2016 में गोल्ड मैडल जीता था.

COMMENT