ताबड़तोड़ क्रिकेट ट्वैंटी 20 का सब से मशहूर फौर्मेट इंडियन प्रीमियर लीग टूर्नामेंट पूरे तामझाम के साथ 12 मई, 2019 को खत्म हो गया. पहले यह अंदेशा था कि चूंकि देश में लोकसभा चुनाव भी इसी बीच हो रहे थे तो कहीं इसे दूसरे देश में तो नहीं शिफ्ट करना पड़ेगा, पर ऐसा नहीं हुआ.

फाइनल मुकाबले में मुंबई इंडियंस और चेन्नई सुपर किंग्स आमनेसामने थीं. ये दोनों टीमें इससे पहले 3-3 बार आईपीएल की ट्रौफी जीत चुकी थीं. जो भी टीम यह मुकाबला जीतती वह रिकौर्ड चौथी बार विजेता बनती.

हैदराबाद के राजीव गांधी इंटरनेशनल स्टेडियम में  यह मुकाबला खेला गया. मुंबई इंडियंस के कप्तान रोहित शर्मा ने टौस जीत कर पहले बल्लेबाजी चुनी. सब उम्मीद कर रहे थे कि इस मैच को रोमांचक बनाने के लिए मुंबई इंडियंस की टीम एक बड़ा स्कोर बनाएगी जिस से चेन्नई सुपर किंग्स पर दबाव बनाया जा सके.

मामला जम नहीं पाया

चूंकि इस पूरे आईपीएल में मुंबई इंडियंस के कप्तान रोहित शर्मा ज्यादा कमाल नहीं दिखा पाए थे, इसलिए उनके चाहने वालों को उम्मीद थी कि वे फाइनल में बढ़िया बल्लेबाजी करेंगे. मुंबई के ओपनर बल्लेबाज क्विंटन डिकौक ने अपने पार्टनर रोहित शर्मा के साथ मिल कर टीम को तेज शुरुआत दिलाई. दोनों के बीच पहले विकेट के लिए 45 रन की अच्छी पार्टनरशिप रही लेकिन चौथे ओवर की 5वीं गेंद पर तेज गेंदबाज शार्दुल ठाकुर ने क्विंटन डिकौक का विकेट ले लिया. क्विंटन डिकौक ने 17 गेंदों पर 29 रन बनाए थे जिसमें 4 छक्के शामिल थे.

इस के बाद रोहित शर्मा, जो अच्छी लय में दिख रहे थे, को तेज गेंदबाज  दीपक चाहर ने आउट कर दिया. इन दोनों बल्लेबाजों को विकेट के पीछे महेंद्र सिंह धौनी ने कैच किया था. रोहित शर्मा ने 14 गेंदों पर 15 रन बनाए थे. जल्दी ही गेंदबाज इमरान ताहिर ने सूर्यकुमार यादव को आउट कर के चेन्नई सुपर किंग्स को तीसरी कामयाबी दिला दी. उन्होंने 17 गेंदों पर 15 रन बनाए. थे.

इस के बाद क्रुणाल पांड्या मैदान पर आए, पर वे भी 7 गेंदों पर 7 रन बना कर शार्दुल ठाकुर का दूसरा शिकार बने. तब तक मुंबई इंडियंस के 12.3 ओवरों में 89 रन बन चुके थे. फिर 14वें ओवर में इमरान ताहिर ने  ईशान किशन को 23 रन पर सुरेश रैना के हाथों कैच करवा दिया. उस के बाद गेंदबाज दीपक चाहर ने हार्दिक पांड्या को अपना शिकार बनाया. तब तक मुंबई इंडियंस के 18.2 ओवर में 6 विकेट पर 140 रन बन चुके थे. चूंकि दूसरे छोर पर कायरन पोलार्ड बल्लेबाजी कर रहे थे तो लग रहा था कि अगली बची गेंदों पर वे कुछ अच्छे हिट्स लगा कर स्कोर को 160 तक पहुंचा देंगे.

पर ऐसा हो न सका. मुंबई इंडियंस ने राहुल चाहर और मिचेल मैक्लेनघन के रूप में 2 विकेट और गंवा दिए. इस तरह उस ने 20  ओवर में 8 विकेट पर 148 रन बनाए. कायरन पोलार्ड ने 25  गेंदों पर नाबाद 41 रन बनाए. चेन्नई सुपर किंग्स की ओर से दीपक चाहर ने 3, इमरान ताहिर और शार्दुल ठाकुर ने 2-2 विकेट चटकाए.

फाइनल मुकाबले में इतने रन कम ही बताए जा रहे थे, क्योंकि चेन्नई सुपर किंग्स की बल्लेबाजी इस पूरे सीजन में उम्दा रही थी और उस के कप्तान महेंद्र सिंह धौनी भी पूरी लय में दिख रहे थे.

हाथ को आया, मुंह लगा

उम्मीद के मुताबिक चेन्नई सुपर किंग्स के ओपनर बल्लेबाजों फाफ डुप्लेसिस और शेन वाटसन ने अच्छी शुरुआत दिलाई. आउट होने से पहले फाफ डुप्लेसिस ने महज 13 गेंदों में 26 रन बनाए थे.

चेन्नई सुपर किंग्स को 9वें ओवर में दूसरा झटका लगा था. राहुल चाहर की एक शानदार गेंद बल्लेबाज सुरेश रैना के पैर पर लगी थी और अंपायर ने उन्हें पगबाधा आउट करार दिया, लेकिन सुरेश रैना ने रीव्यू ले लिया. तीसरे अंपायर ने भी फील्ड अंपायर के फैसले पर मोहर लगा दी और 8 रन बना कर रैना आउट हो कर पवेलियन लौट गए. चौथे नंबर पर बल्लेबाजी करने आए अंबाती रायुडू ने काफी खराब बल्लेबाजी की और वे 4 गेंदों पर एक रन बना कर आउट हो गए.

उस के बाद बल्लेबाजी करने उतरे चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धौनी सिर्फ 2 रन बना कर रन आउट हो गए. यह एक ऐसा फैसला था जिस पर थर्ड अंपायर भी शक के दायरे में आ गए थे.

इस के बाद मुंबई इंडियंस के तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह ने मौके पर ड्वेन ब्रावो को आउट कर चेन्नई सुपर किंग्स को 5वां झटका दे दिया. उन्होंने 15 गेंदों पर 15 रन बनाए.

इस बीच ओपनर बल्लेबाज शेन वाटसन ने 59 गेंदों पर 80 रन की शानदार पारी खेली, पर मौके पर उन की पारी का भी अंत हो गया. वे रन आउट हुए.

मैच का आखिरी ओवर लसिथ मलिंगा करा रहे थे. आखिरी की २ गेंदों पर जीतने के लिए 4 रन बनाने थे. नए बल्लेबाज शार्दुल ठाकुर ने पहली गेंद पर 2 रन लिए. लेकिन आखिरी गेंद पर लसिथ मलिंगा ने ऐसी यॉर्कर गेंद फेंकी कि वे समझ नहीं पाए और पगबाधा आउट हो गए. इस तरह मुंबई इंडियंस ने यह दिल धड़काने वाला मुकाबला एक रन से जीत लिया.

हो गए मालामाल

  • मुंबई इंडियंस को विजेता ट्रौफी के साथ 20 करोड़ रुपए की इनामी राशि मिली.
  • रनरअप टीम चेन्नई सुपर किंग्स को साढ़े 12 करोड़ रुपए का इनाम दिया गया.
  • इस के अलावा एलिमिनेटर जीतने वाली और क्वालीफायर 2 हारने वाली दिल्ली कैपिटल्स को तीसरे नंबर पर रहने के लिए साढ़े 10 करोड़ रुपए की इनामी राशी मिली.
  • एलिमिनेटर मैच हार कर चौथे पायदान पर रहने वाली सनराइजर्स हैदराबाद को भी साढ़े 8 करोड़ रुपए इनाम के रूप में मिले.

इन शानदार खिलाड़ियों ने जीते ये अवार्ड्स…

  • फाइनल मुकाबले में 14 रन दे कर 2 विकेट चटकाने वाले जसप्रीत बुमराह को ‘प्लेयर औफ द मैच’ के खिताब से नवाजा गया.
  • कोलकाता नाइट राइडर्स के आंद्रे रसल को 510 रन बनाने और 11 विकेट लेने पर सब से ‘वैल्यूएबल प्लेयर’ का अवौर्ड दिया गया.
  • सनराइजर्स हैदराबाद की टीम को बिना कोई विवाद किए पूरा टूर्नामेंट खेलने के लिए ‘फेयरप्ले अवौर्ड’ मिला.
  • चेन्नई सुपर किंग्स के इमरान ताहिर ने टूर्नामेंट में 26 विकेट लिए इसलिए उन्हें ‘पर्पल कैप’ मिली.
  • सनराइजर्स हैदराबाद के डेविड वौर्नर को ‘ओरेंज कैप’ दी गई. उन्होंने इस टूर्नामेंट में सब से ज्यादा 692 रन बनाए.
  • इस सीजन की सब से तेज हाफ सेंचुरी मुंबई इंडियंस के हार्दिक पांड्या ने 17 गेंदों में बनाई.
  • मुंबई इंडियंस के कायरन पोलार्ड को ‘परफेक्ट कैच औफ द सीजन’ मिला.
  • कोलकाता नाइट राइडर्स के आंद्रे रसल को ‘सुपर स्ट्राइकर औफ द सीजन’ का अवार्ड दिया गया. उनकी स्ट्राइक रेट 204.81 थी.
  • किंग्स इलेवन पंजाब के केएल राहुल को ‘स्टाइलिश प्लेयर औफ द सीजन’ घोषित किया गया.
  • ‘इमर्जिंग प्लेयर अवौर्ड’ कोलकाता नाईट राइडर्स के शुभमन गिल की झोली में गया.
  • मुंबई इंडियंस के राहुल चाहर को ‘गेम चेंजर औफ द सीजन’ का ख़िताब मिला.
Tags:
COMMENT