हर विधार्थी यही सोचता है की पढ़ाई खत्म होते  ही हमारी जौब लग जाये लेकिन कभी कभी अच्छी क्वालिफिक्शन होने के बावजूद हमें इंटरव्यू के दौरान रिजेक्शन का सामना करना पड़ता है जिसका कारण हमारी डिग्री ,कौलेज या इंस्टिट्यूट मे कमी नहीं, बल्कि कमी होती है हमारे अंदर सौफ्ट स्किल्स की . दरअसल जौब के लिये आपके सौफ्ट स्किल्स को भी परखा जाता है. जब आप इंटरव्यू के लिये जाते है तो सामने बैठे इंटरव्यू लेने वालो में से एक आपके  हाव भाव, बैठने का तरीका, कमरे  में प्रवेश  और  निकास का तरीका, बोलने के तरीके पर भी गौर करता है .  आपकी प्रोफेशनल  व पर्सनल लाइफ दोनों के लिए जरूरी है की आपके अंदर ये सौफ्ट स्किल्स हों .

Tags:
COMMENT