सुप्रीम कोर्ट ने केवल कुछ समय के लिये दिल्ली-एनसीआर में पटाखों की बिक्री पर रोक लगाई है. इससे पूरी तरह से वायु प्रदूषण को नहीं रोका जा सकता. जब तक पटाखों के चलाने पर रोक नहीं लगेगी तब तक अपेक्षित परिणाम सामने नहीं आयेगे. सुप्रीम कोर्ट की पहल स्वागत के योग्य है, जो लोग इसका विरोध कर रहे हैं वह धार्मिक लाभ के लिये यह कर रहे हैं.

COMMENT