पिछली यूपीए सरकार के कार्यकाल के दौरान वर्ष 2010 में हुए एंगलोइतालवी कंपनी अगस्ता वैस्टलैंड के साथ हुए 12 एडब्लू-101 वीवीआईपी हैलिकौप्टर्स सौदे में बिचौलिए की भूमिका निभाने वाले ब्रिटिश नागरिक क्रिश्चियन मिशेल के दुबई से भारत में प्रत्यर्पण को भले ही मोदी सरकार की बड़ी उपलब्धि के तौर पर देखा जा रहा है, मगर इस जीत के पीछे एक महिला की आजादी और उस के मानवाधिकार को रौंदने वाली क्रूर कहानी को अनसुना नहीं किया जा सकता है.

Tags:
COMMENT